राजस्थान (Rajasthan) में शराब (Alcohol) की दुकानों की ई-ऑक्शन के माध्यम से लगने वाली बोलियों की चर्चा दूर-दूर तक होने लगी है। दरअसल, कुछ दिनों पहले हनुमानगढ़ (HanumanGarh) जिले में एक शराब (Alcohol) की दुकान की ई-ऑक्शन के माध्यम से 500 करोड़ रुपये से अधिक की बोली लगाई गई थी। शराब की दुकान की इतनी अधिक बोली लगाई जाने के बाद ऐसा ही एक नया मामला राज्य के दौसा जिले से सामने आया है, जहां शराब का ठेका लेने के लिए एक शख्स ने 999 करोड़ रुपये से अधिक की बोली लगाई। इसके बाद प्रतिद्वंद्वी ने भी उससे बढ़कर बोली लगा दी। हालांकि, चर्चा इस बात की भी हो रही है कि यहां बोली लगाने का सिललिसा तब तक चलता रहा जब तक कि कंप्यूटर में राशि लिखने की लिमिट खत्म नहीं हो गई।
अब यह अनोखी बोली पूरे राजस्थान (Rajasthan) में चर्चा का विषय बनी हुई है। जानकारी के मुताबिक दौसा जिले के साहपुर पाखर गांव के शराब के ठेके के लिए ऑनलाइन (Online) बोली लगाई जा रही थी। इस बोली में नवल किशोर मीणा और करण सिंह गुर्जर ने हिस्सा लिया था। दोनों ने ही बोली लगाना शुरू किया और बोली की राशि 999 करोड़ रुपये से अधिक तक पहुंच गई।