जयपुर|Mahima Jain:राजस्थान में लगातार बढ़ती ठंड से लोगो की कपकपी छूटने लगी है ऐसे में कोरोना का भी खतरा बढ़ने की सम्भावना बढ़ जाती है तो वही राजस्थान में पिछले दो दिन से सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ का आज सबसे ज्यादा असर देखने को मिला। पौष के महीने में भी आज राजस्थान का मौसम सावन के महीने जैसा दिखा। गंगानगर, हनुमानगढ़ एरिया को छोड़ दे तो प्रदेश के शेष सभी एरिया में आज सुबह से आसमान में घने बादल छाए हुए हैं। जयपुर, भरतपुर, अजमेर, कोटा और उदयपुर संभाग के कई जिलों में बीती रात से रूक-रूक कर बारिश का दौर जारी है।

चित्तौड़गढ़, बूंदी, कोटा, उदयपुर के कुछ एरिया में पिछले 24 घंटे के दौरान 1 इंच से भी ज्यादा बरसात दर्ज की गई। बारिश के साथ चली हवाओं से सर्दी बढ़ गई और ठिठुरन तेज हो गई। वहीं रात के साथ-साथ अब दिन भी ठण्डे हो गए। बीकानेर में कल दिन में न्यूनतम तापमान 14.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ, जो इस सीजन का सबसे ठण्डा दिन रहा।

acr468 566332ae3754105gjlp11 2583691 c1 CMY 2 1

मौसम केन्द्र

मौसम केन्द्र जयपुर और जलसंसाधन विभाग से मिले डेटा के मुताबिक कोटा, अजमेर, बारां, सवाई माधोपुर, बूंदी, चित्तौड़गढ़, जालौर, सिरोही, डूंगरपुर, पाली समेत कई जिलों में बारिश हुई। सबसे ज्यादा उदयपुर के मावली में पिछले 24 घंटे के दौरान 50MM बारिश दर्ज हुई।

वहीं चित्तौड़गढ़ में 28MM, बूंदी में 24.5, कोटा के सांगोद में 26, बारां के शाहबाद में 26, उदयपुर के गोगुंदा 38, भीण्डर में 27, भीलवाड़ा के जहाजपुर में 11, बनेड़ा में 10, कोटा के लाडपुरा में 19, सांगोद में 26, डीगोद में 22, रामगंजमंडी में 18, कानावास में 17, राजसमंद में 19, नाथद्वारा में 16, रेलमगरा में 18, कुंभलगढ़ में 13MM बारिश दर्ज की गई। इन जिलों के अलावा सवाई माधोपुर, बांसवाड़ा, डूंगरपुर, अजमेर, जोधपुर, बाड़मेर, पाली, जालौर, सिरोही और जयपुर जिले में भी बारिश हुई। जयपुर में सुबह ग्रामीण अंचल में मामूली बूंदाबादी हुई।

अब आगे क्या?
जयपुर मौसम केन्द्र ने आज कोटा, उदयपुर, भरतपुर, जयपुर और अजमेर संभाग में पूरे दिन बादल छाए रहने, बारिश होने और कहीं-कहीं ओले गिरने की भी चेतावनी जारी की है। इसके बाद 28 से 31 दिसंबर तक बीकानेर, गंगानगर, चूरू, हनुमानगढ़, अलवर, सीकर, झुंझुनूं में घना कोहरा पड़ने की संभावना जताई है। इसके लिए मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी किया है।