Jaipur चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा (Medical Minister Dr. Raghu Sharma) के निर्देश पर कोरोना संक्रमित मरीजों और उपभोक्ताओं को निजी चिकित्सालयों एवं दवा स्टॉकिस्ट, विक्रेता के स्तर में रेमडिसीविर, टोसिलिजुमैब इंजेक्शन, फैवीपिरावीर टैबलेट्स और ऑक्सीजन सिलेंडर की उपलब्धता की सुनिश्चिता के लिए 4 सदस्यीय टीम का गठन किया है।चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सचिव सिद्धार्थ महाजन ने बताया कि इस टीम में औषधि नियंत्रक विभाग के दिनेश कुमार तनेजा, मनीष कुमार मोदी व श्रीमती कोमल रूपचन्दानी और राजस्थान फ़ार्मेसी कौंसिल के सदस्य नवीन सांघी को शामिल किया गया है ।

यह टीम जयपुर स्थित निजी चिकित्सालयों एवं दवा स्टॉकिस्ट, विक्रेता का निरीक्षण कर उक्त औषधियों की सप्लाई वितरण, विक्रय इत्यादि की गहनता से जॉच कर प्रतिदिन सांय 6 बजे अपनी रिपोर्ट औषधि नियंत्रण संगठन, मुख्यालय को प्रेषित करेगें एवं अनियमित्ताओं के क्रम में अगवत करवाते हुये नियमानुसार कार्यवाही सम्पादित करेंगे।साथ ही यह टीम औषधियों एवं मेडिकल ऑक्सीजन की कालाबाजारी (Black Marketing) इत्यादि के संबंध में प्राप्त शिकायतों के क्रम में नियमानुसार कार्यवाही सम्पादित करते हुए कार्यवाही की सूचना प्रतिदिन अलग से प्रस्तुत करेगी।