भीलवाड़ा कोरोनावायरस की दूसरी लहर पूरी तरह से तांडव मचाते हुए काल का रूप बन गई है और अपना ग्रास बनाने लग गई है इसे यू का है तो की कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा अब तेजी से बढ़ने लगा है भीलवाड़ा शहर में पिछले 5 दिन मैं कोरोना से अधिकृत रूप से 60 मौतें हो चुकी है जबकि अनाधिकृत रूप से आंकड़ा और भी अधिक हो सकता है ।शहर सहित जिले भर में कोरोनावायरस संक्रमण पूरी तरह से फैल चुका है और इसकी 10 को तोड़ने के लिए चिकित्सा विभाग तथा जिला प्रशासन के सारे प्रयास विफल होते नजर आ रहे हैं और दिन-ब-दिन लगातार कोरोना पॉजिटिव रोगियों की संख्या बढ़ रही है तो अब करण से मरने वालों का आंकड़ा भी बढ़ने लगा है गहलोत सरकार द्वारा कोरोना से मरने वालों के शौक अस्पताल से श्मशान घाट तक और उनका अंतिम संस्कार फ्री करने की 26 अप्रैल से शुरू की गई मुहिम के तहत भीलवाड़ा नगर परिषद के वाहनों से श्मशान घाट तक पहुंचाए गए कोरोना से मरने वालों के शवो का आंकड़ा और पंचम की मोक्ष धाम समिति के सचिव तथा गांधी नगर शास्त्री नगर मोक्ष धाम समिति के ट्रस्ट बाबूलाल जाजू द्वारा बताए गए आंकड़ों के अनुसार पिछले 5 दिन में कोरोना से मरने वालों की संख्या तीन संस्थान ग्रहों में 60 पहुंच चुकी है ।इन आंकड़ों में सर्वाधिक कोरोना से मरने वालों की संख्या महात्मा गांधी अस्पताल रामस्नेही अस्पताल और बांगड़ हॉस्पिटल से है ।यह आंकड़े शहर के पंचमुखी मोक्ष धाम गांधीनगर मोक्ष धाम और शास्त्रीनगर मोक्ष धाम के हैं इनके अलावा शहर में टंकी के बालाजी मोक्ष धाम उपनगर पूर्व और सांगानेर में स्थित मोक्षधाम दी है इनके आंकड़े शामिल नहीं है इनके अलावा शहर के कब्रिस्तान हो के आंकड़े भी शामिल नहीं है ।