सीकर: प्रदेश के सीकर जिले के खाटूश्यामजी में लगने वाले बाबा श्याम के वार्षिक फाल्गुनी लक्खी मेले को लेकर तैयारियां लगभग पूर्ण हो गई है. मेले का आयोजन 17 मार्च से 26 मार्च तक किया जाएगा, कोरोना के चलते इस बार बाबा श्याम का वार्षिक फाल्गुनी लक्खी मेला प्रशासन के लिए भी एक बड़ी चुनौती बनकर सामने आया है, और कोरोना संक्रमण के बीच इतने यात्रियों को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ बाबा श्याम के दर्शन करवाना जिला प्रशासन ही नहीं श्री श्याम मंदिर कमेटी के सामने भी एक बड़ी चुनौती है, श्याम मंदिर कमेटी के सभी लोग मेले की तैयारियों में जुट गए है, वही कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर इस बार चिकित्सा विभाग ने भी खास तैयारी कर रहे है, ताकि कोरोना गाइडलाइन्स का भी पालन हो सके और लोगो को बीमारी से ज्यादा से ज्यादा बचाव करवा सके जिला प्रशासन ने खाटू श्याम जी आने वाले सभी श्याम भक्तों से कोरोना की rt-pcr जांच को अनिवार्य कर दिया है, RT PCR टेस्ट में नेगेटिव रिपोर्ट दिखाने पर ही यात्रियों को खाटूश्यामजी में प्रवेश दिया जाएगा. इसके लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के द्वारा 350 चिकित्सकों की ड्यूटी मेले में लगाई गई है|