राजस्थान (Rajasthan) की राजनीति में अब एक नए सियासी बवंडर की सुगबुगाहट आ रही है। दरअसल, प्रदेश की गहलोत सरकार (Gehlot Goverment) में परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास (Pratap Singh Khachariyawas) के पीए (P.A) पर एक महिला ने संगीन आरोप लगाए है। संगीन आरोप लगाने वाली इस महिला का वीडियो (Video) सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल (Viral) हो रहा है । वीडियो (Video) में खाचरियावास (Pratap Singh Khachariyawas) के पीए बृजलाल प्रजापत (Brijlal Prajapat) पर एक महिला ने बार-बार दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है। कथित वीडियो में पीड़ित महिला ने मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास (Pratap Singh Khachariyawas) को संबोधित करते हुए कहा- मंत्री जी, मैं अपनी बहन के साथ हुए दुष्कर्म के मामले में बड़ी उम्मीद के साथ आपसे मदद मांगने आई थी। मैनें आपसे 2 मिनट का समय मांगते हुए बात करने को कहा तो समय के अभाव के कारण आपने मुझे मदद का आश्वासन देते हुए अपने स्टाफ से बात करने के लिए कह दिया।
पीड़िता ने भावुक होते हुए आगे कहा कि मैनें आपके स्टाफ में बृजलाल प्रजापत (Brijlal Prajapat) से मिलकर उन्हे मेरी बहन के साथ हुए दुष्कर्म की पूरी घटना बताई, तो उन्होने मुझे मदद का भरोसा दिलाया। लेकिन उन्होनें मेरी मदद करने के बजाय मेरे साथ ज्यादती की। मेरी मजबूरी का फायदा उठाते हुए प्रजापत ने मेरे साथ बलात्कार (Rape) किया। उस दिन में वहां से बिना कुछ बोले चली गई। इस घटना के दो दिन बाद मेरे पास उनका फोन (Phone) आया और कहा कि तुम्हारी एफआईआर (FIR) की कॉपी मेरे पास है जिसे देने के लिए मैं तुम्हारे घर आ रहा हूं। मैंने उन्हे आने के लिए मना किया और कहा कि मैं आपके ऑफिस (Office) आ जाती हूं लेकिन उन्होने मेरी बात नही सुनी और जबरन मेरे घर आकर मेरे साथ बदत्तमीज़ी की। उसके दो दिन बाद उन्होने मुझे फोन कर स्टेशन रोड (Station Road) के पास एक होटल (Hotel) में थानेदार से मिलवाने के नाम पर बुलाया। वहां उन्होने मुझे कोल्डड्रिंक (Colddrink) में कुछ मिलाकर दिया जिसे पीने से मैं बेहोश हो गई और जब मुझे होश आया तो मेरे साथ बलात्कार हो चुका था। इतना ही नही उसने मेरी अश्लील वीडियो भी बना ली और मुझे बल्कमैल किया। इसके बाद उसने मेरे साथ कई बार मारपीट की, मुझे धमकाया और कई बार मेरा शोषण किया। पीड़िता ने आगे कहा कि- आज मेरे साथ ऐसा हुआ है, कल किसी दूसरी लड़की के साथ भी हो सकता है। जब मैं इस पूरे मामले में रिपोर्ट दर्ज करवाने पहुंची तो मेरी रिपोर्ट भी नही लिखी गई। आपको बता दें कि राजस्थान में कुछ ही समय में विधानसभा उपचुनाव होने है। चुनावी दौर में इस तरह की वीडियो के वायरल होने से बवंडर मचना तय है। लेकिन मरुधर बुलेटिन (Marudhar Bulletin) इस कथित वीडियो की सत्यता का दावा नही करता है।
वहीं इन दिनों प्रदेश के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा का भी एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है जिसमें शिक्षा मंत्री उनके निवास स्थान पर मिलने आए शिक्षकों को धमका रहे हैं। कहीं ना कहीं इस घटना का भी विधानसभा उपचुनाव पर असर पड़ना लगभग तय माना जा रहा है।