पूर्व राष्ट्रपति मुखर्जी के निधन पर रखा दो मिनट का मौन

0
31

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन पर शोक जताते हुए काव्या शिक्षा एवं विकास सेवा संस्थान करौली कार्यालय पर दो मिनट का मौन रखते हुए श्रद्धांजलि अर्पित की गई। संस्थान के अध्यक्ष रामजीलाल शर्मा ने कहा कि प्रणब मुखर्जी 50 बर्ष से राजनीति जीवन में एक कार्यकर्ता से लेकर देश के शीर्ष पद तक रहे। उन्होंने अपनी गरिमा को बनाए रखा। उनके सर्व दलों के नेताओं के साथ अच्छे संबंध रहे। इस मौके पर सामाजिक कार्यकर्ता शम्भू दयाल शर्मा, जोनी पांचाल सहित संस्थान के कई पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता मौजूद रहे।