हिंडौनसिटी: खबर करौली के हिण्डौन सिटी से है जहां वार्ड संख्या 12 में एक ही परिवार के 3 सदस्यों ने अपने हाथो की नसें काटकर खुदकुशी करने का प्रयास किया। वहीं सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस कर्मियों ने तत्काल मकान का दरवाजा तोड़ा और घायलों को राजकीय अस्पताल लेकर पहुंचे और उपचार करवाया। इस घटना के बाद एसडीएम सुरेश यादव और डीवाईएसपी किशोरीलाल भी राजकीय अस्पताल पहुंचे। इधर घटना के बारे में पीड़ितों ने बताया कि दो दिन पूर्व ही उसके पिता की संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई थी। जिसका अंतिम संस्कार भी परिजनों के बिना किया गया। वहीं उसका बड़ा भाई भी संदिग्ध कोरोना संक्रमित है, जिसका जयपुर के वैशाली नगर स्थित निजी हॉस्पिटल में उपचार चल रहा है। पूरा परिवार कोरोना के डर से भयावह था। उन्हें लग रहा है कि उनके पिता की मौत भी कोरोना से हुई है। इस दौरान परिजन काफी सदमे में थे, जिसे लेकर बेटा, माँ और बहन ने हाथों की नसें काटकर खुदकुशी करने का प्रयास किया। फिलहाल तीनों को अस्पताल में भर्ती कर लिया है। जहां तीनों का इलाज किया जा रहा है।