दांतारामगढ़ के दलतपुरा में दो महिलाएं पति पत्नी बन कर 9 महीने रही और इस दौरान मकान मालिक सहित अनेक लोगों को ठगी का शिकार बनाया। पुलिस थाने में मामला दर्ज हुआ तो पुलिस ने धोखाधड़ी के मामले में पति पत्नी बन कर लोगों से ठगी कर रही महिलाओं को गिरफ्तार किया है। दोनों महिलाएं होने के बावजूद पति पत्नी बन कर साथ रहते और विभिन्न तरह का झांसा देकर उन्होंने अनेक लोगों से ठगी की । दोनों महिलाएं दलतपुरा गांव में कई महीनों तक किराए का मकान लेकर रही इस दौरान मकान मालिक से ₹5 लाख नकद व मकान का किराया लेकर रफूचक्कर हो गई। इस मामले में मकान मालिक ने दांतारामगढ़ पुलिस थाने में 5 जून को धोखाधड़ी का मामला दर्ज करवाया तो पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए दोनों महिलाओं की गुजरात से गिरफ्तारी की है । गिरफ्तारी के बाद पुलिस को इस बात का खुलासा हुआ कि दोनों आपस में पति पत्नी न होकर दोनों महिला मित्र हैं इसके लिए पुलिस ने मेडिकल बोर्ड से मुआयना करवाया जिसमें रितु भाई पटेल जो पति बनकर रह रहा था वह भी महिला ही निकली।
थाना प्रभारी हिम्मत सिंह ने बताया कि दलतपुरा निवासी तेजाराम पुत्र चौथुराम जाति बलाई ने दिनांक 05 जुन 2021 को पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई कि रितु पटेल व दर्शना पण्डित निवासी मेहसाणा गुजरात से टेक्सी
चालक के मार्फत जानकारी हुयी। जिन्होने मुझे पति पत्नि होना बताया एवं कहा की हमारा जयपुर, सीकर, नागौर में प्रोजेक्ट चलता है। हमें कोरोना काल के कारण यहां पर होटल में कमरा किराये का नहीं मिल रहा है। इसके बाद भी मेरे घर पर कमरा किराए लेकर करीब नो महिने रहे। दोनो ने मेरे परिवार को प्रोजेक्ट में शामिल करने का झांसा देकर अलग अलग किश्तो में 5 लाख रूपये प्राप्त कर जिनकी एक स्टाम्प पर लिखापढी कर कुछ ही समय में रूपये वापिस देने को कहा। बाद में अचानक दोनो फरार हो गये। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की और 12 जून को दोनों को मेहसाणा गुजरात से गिरफ्तार कर लिया।

किसी को भी नहीं हुआ संदेह

दलतपुरा में 9 महीने तक पति पत्नी बन कर रह रही महिलाओं पर किसी को भी संदेह नहीं हुआ और सभी उन्हें पति पत्नी ही मानते रहे यहां तक कि मकान मालिक को भी पता नहीं चल पाया पुलिस को भी गिरफ्तारी के बाद संदेह हुआ तो उन्होंने मेडिकल करवाया जिसमें पति बनकर रह रहे रितु भाई पटेल भी महिला ही निकली। पति बनकर रह रही महिला ने अपने डॉक्यूमेंट भी रितू भाई पटेल के नाम से ही बना रखे थे तथा उसका रहन-सहन भी पुरुष जैसा ही लगता है। थाना प्रभारी ने बताया कि दोनों ने मकान मालिक के साथ ही दांतारामगढ़ में अनेक लोगों को ठगी का शिकार बनाया है इसकी जानकारी भी सामने आ रही है । उन्होंने बताया कि यहां कई टैक्सी वाले सब्जी वाले आदि का भी उन पर हजारों रुपए बकाया है जिस का भी पता लगाया जा रहा है।

इस प्रकार करती थी लोगों से ठगी

थाना प्रभारी हिम्मत सिंह ने बताया कि अभियुक्ता रितु
गोपाल पटेल की शारीरिक बनावट पुरूष जैसी होने पर रितु पटेल व दर्शना पण्डित पुरूष व स्त्री बनकर वर्ष 2015 से साथ-साथ रह रहे है, तथा देश के अलग-अलग भागो में रहकर लोगो से धोखाधडी करते है। अभियुक्तगणो ने उतराखण्ड, केरल, देहरादुन, महाराष्ट्र, दिल्ली, जयपुर, अजमेर,
सीकर आदि स्थानो पर पति पत्नि बनकर कई लोगो से बड़े व्यवसायी बनकर धोखाधडी कर रूपये हडपे है। गुजरात की निवासी है दोनों महिलाएं पुलिस के अनुसार दोनों ठग गुजरात के अलग-अलग स्थानों की रहने वाली हैं जिसमें रितु पुत्री गोपाल भाई जाति पटेल उम्र 28 साल निवासी डेनप पुलिस थाना विसनगर जिला मेहसाणा गुजरात तथा दर्शना उर्फ डीम्पल पुत्री राजगोपाल पण्डित जाति ब्राह्मण उम्र 40 साल निवासी 102, अवनी रेजिडेंसी गोटरी बडौदा गुजरात की रहने वाली है।

थाना प्रभारी के नेतृत्व में टीम का गठन

पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप द्वारा वांछित अपराधियो की धरपकड हेतु चलाये जा रहे विशेष अभियान में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रतन लाल भार्गव के निर्देशन में एवं वृत्ताधिकारी बनवारी धायल के सुपरविजन में अभियुक्तों की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु थाना प्रभारी हिम्मत सिंह
के नेतृत्व में विशेष टीम का गठन किया गया जिसमें मुकेश कुमार हैड कानि, सुभाष कुमार कानि, सुभाष कानि,श्रीमति श्याना मकानि, श्रीमति मन्जू, राकेश,साईबर सैल सीकर अमल में लाई गई । थाना प्रभारी ने बताया कि अभियुक्तगण काफी शातिर व बदमाश प्रवृत्ति के होने के कारण बाद घटना के देश के अनेक स्थानो पर घुमते रहे एवं अलग अलग जगह अन्य व्यक्तियो से धोखधडी करते रहे। जो अपने घर से रूपोश हो गये जिनकी निरन्तर तलाश कर मेहसाणा गुजरात से दस्तेयाब किया गया। जिन्होने एक दुसरे को पति पत्नि होना बताया। रितु गोपाल पटेल के दौराने अनुसंधान व गुप्त पतारसी से महिला होना प्रतीत होना पाया गया जिस पर वास्तविक गिरफ्तारी हेतु मेडिकल बोर्ड से मेडिकल परीक्षण करवाया गया तो रितु गोपाल पटेल का महिला होना पाया गया। प्रकरण में अभियुक्तगणो ने कई लोगो के साथ धोखाधडी करने की शिकायत सामने आई है। थानाधिकारी हिम्मत सिंह ने बताया कि इस तरह से अजीबोगरीब तरीके से धोखाधड़ी करने का मामला दांतारामगढ़ पुलिस थाने में पहली बार आया है।

IMG 20210614 122733
IMG 20210614 122753