ग्राम आसलपुर गाँव में स्थित न्यू राजस्थान विद्या मंदिर सीनियर सेकेंडरी स्कूल में, प्रथम रक्तदान शिविर का आयोजन हुआ। कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्वलित कर हुई। शिविर में 111 यूनिट रक्त संग्रहित किया गया। प्रदेश भर में बढ़ते कोरोना संक्रमण आंकड़ों पर राज्य सरकार अंकुश लगाने के लिए तमाम प्रयास कर रही है. लॉकडाउन के चलते ब्लड की कमी को दूर करने के लिए रक्तदान शिविर का आयोजन हुआ जिस में मुख्य अतिथि ग्राम पंचायत आसलपुर सरपंच सरला कुमावत, ढाणी बोराज ग्राम पंचायत सरपंच भैरूराम देगड़ा रहे, वही कार्यकर्म की अध्यक्षता संस्था प्रधान पी.आर.ढाका ने की, विशिष्ट अथितियो में राजेंद्र सिंह राव उपसरपंच,भामाशाह रामपाल भम्भोरिया, राजेश जाजोरा, गोलापल लाल कुमावत, सरपंच पति वार्ड पंच कमलेश कुमावत, रमेश कुमावत, राजेंद्र नागा, बजरंग बुरी, गिरधारी, लक्ष्मण , शंकरलाल रहे । अतिथियो का स्वागत बबीता ढाका ,कमलेश भाखकर और अन्य ने किया। स्कूल परिसर में गुरुकुल ब्लड बैंक जयपुर के सहयोग से आयोजित शिविर में ग्रामीणों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया इस दौरान राज्य सरकार की ओर से जारी कोरोना गाइडलाइन साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखा गया। निर्देशक ने सभी रक्त दाताओं का आभार व्यक्त करते हुए सभी को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। सरपंच सरला कुमावत ने रक्त दान की महिमा बताते हुए कहा कि रक्तदान से बड़ा कोई दान नहीं होता है, आपके खून की चंद बूंदों से किसी घर का चिराग बुझने से बचाया जा सकता है, परोपकार करना वीरों का गहना है। संस्था निर्देशक पी.आर. ढाका ने बताया कि करोना काल में ब्लड की कमी देखते हुए, रक्तदान शिविर के माध्यम से एकरीत करने का काम किया गया है ऐसे में सभी को आगे आकर रक्तदान करना चाहिए रक्तदान करने से जरूरतमंद लोगों को रक्त मिलेगा स्वास्थ्य भी अच्छा होगा। इसके साथ ही उन्होंने लोगों से सोशल डिस्टेंस रखने चेहरे पर मार्क्स लगाने और सरकारी गाइडलाइन की पालना करने पर लोगों से अपील की। कमलेश भाखर ने बताया कि शिविर में 111 युवाओं ने रक्तदान किया है सभी रक्त दाताओं को साला परिवार की ओर से आभार व्यक्त किया है। इस इस दौरान छोटू लाल जाखड़, असलम अली, शैलेन्द्र सिंह राव, महेश कुमावत, नारायणस्वामी, आकाश, प्रदीप शर्मा, मानदास स्वामी, राजेंद्र नोदल, मोहन गुजर सहित अन्य लोगों मौजूद रहे।