नए देश की आधारशिला रखेगा और एक सदी तैयार होगी: पीएम मोदी

0
145

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज देशवासियों को संबोधित किया। कॉन्क्लेव ऑन ट्रांसफोरमेशनल रिफॉर्म्स इन हायर एजुकेशन अंडर नेशनल एजुकेशन पॉलिसी कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल भी मौजूद रहे।

शिक्षा मंत्रालय द्वारा आयोजित इस कॉन्फ्रेंस में पीएम मोदी ने कहा कि नई शिक्षा नीति को सब पसंद कर रहे है। कोई भी नई शिक्षा नीति का विरोध नहीं कर रहा है। इसका मुख्य कारण यह है कि इसमें कुछ भी एक तरफा नहीं है। साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि ये सिर्फ कोई सर्कुलर नहीं बल्कि एक महायज्ञ है, जो नए देश की नींव रखेगा और एक सदी तैयार करेगा। उन्होंने कहा कि हाल ही में लागू हुई नई शिक्षा नीति को अमल में लाने के लिए हम सभी को एकसाथ संकल्पबद्ध होकर आगे आकर काम करना होगा। यहां से विश्वविद्यालय, कॉलेजिस, स्कूल एजुकेशन बोर्ड, अलग-अलग स्टेकहोल्डर्स के साथ संवाद और समन्वय का नया दौर शुरु होने वाला है।

vसाथ ही पीएम मोदी ने कहा कि नई शिक्षा नीति में भारत के नागरिकों को सशक्त करने, ज्यादा से ज्यादा अवसरों के लिए उन्हें उपयुक्त बनाने पर पॉलिसी में जोर दिया गया है। जब भारत का छात्र, चाहे वो नर्सरी में हो या कॉलेज में, साइंटिफिक तरीके से पढ़ेगा, बदलती जरूरतों के हिसाब से पढ़ेगा तो देश के विकास में भूमिका निभाएगा। साथ ही उन्होंने कहा कि बच्चों को उनकी मातृभाषा में पढ़ाने पर सहमति दी गई है, इससे उनकी नींव मजबूत होगी, आगे करियर बनाने के लिए मजबूत बेस मिलेगा। इसके अलावा उन्होंने बताया कि आज के युवा को ग्लोबल सिटीजन बनाने के लिए 10+2 सिस्टम प्रणाली भी खत्म कर दिया है। जो युवाओं के लिए काफी फायदेमंद होगा।