नई शिक्षा नीति किसी सरकार की नहीं, बल्कि देश की नीति: पीएम मोदी

0
154

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को लेकर आज राज्यपालों के सम्मेलन के उद्घाटन सत्र को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संबोधित किया। इस सम्मेलन में प्रधानमंत्री मोदी ने नई शिक्षा ​नीति को लेकर कहा कि अब आत्मनिर्भर भारत का संकल्प पूरा होगा।

साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि नई शिक्षा नीति बहुत ही प्रासंगिक है और इस पर बहुत मंथन किया गया। इसके अलावा पीएम ने अपने संबोधन में कहा कि शिक्षा नीति देश की आकांक्षाओं को पूरा करने का बहुत महत्वपूर्ण माध्यम होती है। जिसमें सभी लोगों की भागीदारी होती है और इससे सभी जुड़े होते हैं। शिक्षा नीति में सरकार का दखल और प्रभाव कम से कम होना चाहिए। साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि नई शिक्षा नीति किसी सरकार की नहीं, बल्कि देश की नीति है।

पीएम मोदी ने कहा कि शिक्षा नीति से शिक्षक, अभिभावक छात्र जितना जुड़े होंगे, उतना ही यह प्रासंगिक और व्यापकता, दोनों ही बढ़ती है। इसके अलावा पीएम मोदी ने नई शिक्षा नीति को लेकर कहा कि नई शिक्षा नीति पढ़ने के बजाय सीखने पर फोकस करती है और पाठ्यक्रम से और आगे बढ़कर गहन सोच पर जोर देती है। इस पॉलिसी में प्रक्रिया से ज्यादा जुनून, व्यावहारिकता और प्रदर्शन पर बल दिया गया है। इसके अलावा पीएम मोदी ने कहा कि 21वीं सदी में भी भारत को हम एक ज्ञान अर्थव्यवस्था बनाने के लिए प्रयासरत हैं। बहरहाल बता दें कि हाल ही में केन्द सरकार ने 29 जुलाई को नई शिक्षा नीति का एलान किया गया। इस नीति पर अभी भी मंथन जारी है।