दांतारामगढ़। दांतारामगढ़ उपखंड मुख्यालय पर विगत कई महीनों से पेयजल की त्राहि-त्राहि मची है। कस्बे के अधिकांश मोहल्लों में पेयजल की समस्या बनी हुई है जिसके कारण क्षेत्रवासी परेशान है। पेयजल संकट को लेकर बुधवार को बड़ी संख्या में महिलाएं जलदाय विभाग के सहायक अभियंता कार्यालय पहुंची यहां पर कोई भी अधिकारी मौजूद नहीं मिला। यहां तक की समस्या सुनने वाला भी कोई कर्मचारी वहां पर मौजूद नहीं था। इस पर महिलाएं और ज्यादा आक्रोशित हो गई। महिलाओं ने बताया कि मंगलवार को वे जलदाय विभाग के कनिष्ठ अभियंता कार्यालय गई तो वहां भी कोई अधिकारी नहीं मिला और बुधवार को सहायक अभियंता कार्यालय में तो सुनने वाला कोई कर्मचारी तक मौजूद नहीं था। काफी देर बाद जलदाय विभाग के लाइनमैन पहुंचे महिलाओं ने उनको खरी खोटी सुनाई। बाद में महिलाओं ने उपखंड अधिकारी कार्यालय पहुंचकर एसडीएम को समस्या से अवगत करावाया। उपखंड अधिकारी अशोक कुमार रणवां ने जलदाय विभाग के अधिकारियों से वार्ता कर शीघ्र समस्या के समाधान का आश्वासन दिया। उन्होंने महिलाओं को बताया कि वे स्वयं जलदाय विभाग के अधिकारियों के साथ कस्बे में पेयजल आपूर्ति का निरीक्षण करेंगे और समस्या का समाधान करेंगे।आक्रोशित महिलाओं ने कार्यालय के जड़ा तालाजलदाय विभाग के सहायक अभियंता कार्यालय में महिलाओं को मौके पर एक कर्मचारी साफ सफाई करते हुए पाया उसे पूछने पर कर्मचारियों ने अधिकारियों व अन्य कर्मचारियों के बारे में कोई जवाब नहीं दिया। इससे आक्रोशित महिलाओं ने एक बार तो कार्यालय के ताला जड़ दिया बाद में विभाग के लाइनमैन मौके पर पहुंचे तो उन्हें खरी-खोटी सुनाई वे जाने लगे तो उन्हें भी बाहर नहीं जाने दिया बाद में 2 दिन में समस्या के समाधान का लिखित में आश्वासन लेने के बाद लाइनमैन को छोड़ा गया। इस दौरान महिलाओं ने मौके पर आए लाइनमैन व ठेकेदार को खूब खरी-खोटी सुनाई।

IMG 20210616 142720