जयपुर विकास प्राधिकरण के प्रवर्तन दस्ते द्वारा सोमवार को कार्रवाई करते टोंक रोड के पास ग्राम वाटिका खानियों की ढाणी में करीब आठ बीघा निजी खातेदारी की भूमि पर अवैध कॉलोनी बसाने के प्रयास को विफल किया गया। मुख्य नियंत्रक प्रवर्तन रघुवीर सैनी ने बताया कि जोन-14 के क्षेत्राधिकार में टोंक रोड के पास ग्राम वाटिका खानियों की ढाणी मेें करीब आठ बीघा निजी खातेदारी भूमि पर अवैध आवासीय कॉलोनी बसाने के प्रयोजनार्थ बिना जेडीए की अनुमति व स्वीकृति के बनायी जा रही मिट्टी की सड़कों व अन्य अवैध निर्माणों को जोन-14 के राजस्व व तकनीकी स्टॉफ की निशादेही पर प्रवर्तन दस्ते द्वारा जेसीबी मशीन व मजदूरों की सहायता से ध्वस्त किया जाकर अवैध कॉलोनी बसाने के प्रयास को विफल किया गया। कृषि भूमि का गैर कृषि उपयोग करने पर अवैध कॉलोनी विकसित किये जाने के कारण संबंधित निजी खातेदारों के विरूद्ध धारा 175 राजस्थान कास्तकारी अधिनियम के तहत कार्यवाही कर खातेदारी सरकार के नाम करने, के सबंध में विधिसम्मत कार्यवाही हेतु जोन उपायुक्त जोन-14 को लिखा गया है। संबंधित से जेडीए के ध्वस्तीकरण की कार्यवाही का नियमानुसार खर्चा-वसूली व अवैध कॉलोनी बसाने वाली सोसायटियों के विरूद्ध रजिस्ट्रार, सहकारिता विभाग को नियमानुसार प्रभावी कार्यवाही हेतु लिखे जाने की कार्यवाहियॉ सुनिश्चित की जा रही हैं; ताकि अवैध कॉलोनी बसाने के प्रयासों को रोका जा सके। उक्त कार्यवाही प्रवर्तन अधिकारी जोन-14, 11 प्राधिकरण में उपलब्ध जाप्ता, लेबर गार्ड, जोन में पदस्थापित राजस्व तकनीकी स्टॉफ की निशादेही पर प्रवर्तन दस्ते द्वारा सम्पादित की गई।उन्होंने बताया कि जोन-03 में भौरा जी का बाग भूखण्ड संख्या-5ए के मालिक द्वारा रोड सीमा पर अतिक्रमण कर अवैध रूप से गेट लगा लिया गया था जिसे जोन-03 के राजस्व स्टॉफ की निशादेही पर प्रवर्तन दस्ते द्वारा जेसीबी मशीन व मजदूरों की सहातया से हटवाया जाकर सड़क सीमा को अतिक्रमण मुक्त करवाया गया। उक्त कार्यवाही प्रवर्तन अधिकारी जोन-03 व प्राधिकरण में उपलब्ध जाप्ता, लेबर गार्ड, जोन में पदस्थापित राजस्व तकनीकी स्टॉफ की निशादेही पर प्रवर्तन दस्ते द्वारा सम्पादित की गई।