जेईई और नीट परीक्षा के खिलाफ सड़कों पर उतरी कांग्रेस, साथ ही एनएसयूआई भी…

0
580

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। जेईई और नीट की आगामी परीक्षा को लेकर इन दिनों देश में परीक्षा पर सियासी राजनीति शुरू हो गई है। इसी बीच कोविड19 महामारी के बीच होने वाली जेईई और नीट परीक्षा को लेकर कांग्रेस ने सरकार के विरूद्ध मोर्चा खोल दिया है। देश में ही नहीं बल्कि प्रदेश में भी नीट और जेईई परीक्षा रद्द करने की मांग पर हल्ला बोल दिया है।

सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार कांग्रेस और जिस राज्य में उनकी सरकार है वहां शुक्रवार को परीक्षा स्थगित करने की मांग को लेकर देशव्यापी प्रदर्शन कर रही है। राज्य और जिला मुख्यालयों पर केंद्र सरकार के कार्यालयों के सामने युवा कांग्रेस ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया है। इतना ही नहीं सोशल मीडिया पर भी जेईई और नीट परीक्षा को टालने की अपील की जा रही है। साथ ही नीट और जेईई की परीक्षा को कोरोना काल में रद्द करने को लेकर और अपने आवाज सरकार तक पहुंचाने के लिए सोशल मीडिया का सहारा भी लेती नजर आ रही है कांग्रेस पाटी।

कांग्रेस द्वारा सोशल मीडिया पर चलाए जा रहे स्पीकअप इंडिया अभियान के तहत कांग्रेस नेता राहुल गांधी से लेकर तमाम दिग्गज नेता सरकार से अपील कर रहे हैं कि वे कोरोना काल में बच्चों की जान को जोखिम में ना डाले और इन परीक्षाओं को फिलहाल टाल दे। जानकारी के अनुसार बता दें कि सोशल मीडिया पर आज यानी 28 तारीख को ही कांग्रेस की ओर से राष्ट्रव्यापी ऑनलाइन अभियान #SpeakUpForStudentSaftey अभियान की शुरूआत की है। इतना ही नहीं एनएसयूआई इन परीक्षाओं को रद्द कराने को लेकर भूख हड़ताल पर भी बैठ सकते है। गौरतलब है कि जेईई मेंस का एग्जाम पहले 7 से 11 अप्रैल के बीच होना था लेकिन कोरोना महामारी के बढ़ने के कारण इसे 18 से 23 जुलाई तक टाला गया। फिर दोबारा तिथि बदलकर इसे एक से छह सितंबर किया गया। वहीं नीट की परीक्षा तीन मई को होनी थी, जिसे पहले 26 जुलाई किया गया। फिर दोबारा तिथि बढ़ने से अब यह 13 सितंबर को हो रही है।