जालोर में लगातार पॉजिटिव मरीजों की संख्या भी बढ़ती जा रही है, लेकिन सरकार ने जो जन अनुशासन पखवाड़े का निर्णय लिया है पूरी तरह से कारगर साबित नहीं हो रहा है बाजारों में आम दिनों की तरह लोगों की आवाजाही वैसी की वैसी ही है और जिला मुख्यालय को छोड़कर अन्य क्षेत्रों में तो बाजार भी पूरी तरह से खुले नजर आ रह है। इसके अलावा इन दिनों शादियों का सीजन चल रहा है और लॉकडाउन के चलते आमजन को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, इसी बीच स्थानीय जनप्रतिनिधियों और जिला प्रशासन को बीच का रास्ता निकाल कर लोगों को राहत देने के लिए अति आवश्यक कदम उठाना चाहिए। सीमित समय के लिए कपड़े की दुकानों, कॉस्मेटिक,जूते चप्पलों की दुकानो और शादियों के सामान से जुड़ी सामान की दुकाने को छूट देनी चाहिए। हालांकि प्रदेश के कुछ जिलों में जिला प्रशासन द्वारा यह कदम उठाया भी गया है. कोरोना गाइडलाइन की पालना सुनिश्चित करवाते हुए कुछ ऐसा निर्णय तुरंत प्रभाव से लेना चाहिए कि आमजन भी परेशान ना हो और कोरोना संक्रमण भी ना फैले। आमजन से भी विशेष अपील है कि बेवजह अपने घरों से बाहर ना निकले