जयपुर|Mahima Jain:प्रदेश में लगातार बढ़ रही लूट-पाट की वारदाते अब चिंता का विषय बन चुकी है और इससे साफ़ साबित होता है की लोगो में कानून का डर नहीं रहा है लोग बेखौफ होकर लूट हत्या जैसी वारदातों को अंजाम दे रहे है ऐसे मे सरकार के सामने बड़ी चनौती और सवाल खड़े होते है आखिर जनता में कानून का डर क्यों नहीं है जी हा एक ऐसा ही मामला देखने को मिला जयपुर में मंगलवार देर शाम को चांदपोल अनाज मंडी में हथियारबंद बदमाशों ने 28 लाख रुपए लूट की वारदात को अंजाम दिया।

navbharat times 3

मिर्च पाउडर फेंका

बदमाशों ने अनाजमंडी में बनी एक बिल्डिंग की सीढ़ियों में एक कारोबारी के दो कर्मचारियों की आंखों में मिर्च पाउडर फेंका। उनको हथियार दिखाया और रुपयों से भरा बैग लूटकर भाग निकले। घटना के बाद कोतवाली सर्किल के थानों की पुलिस और स्पेशल टीम में शामिल पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे।घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी की फुटेज खंगाली। लूट का शिकार हुए दोनों कलेक्शन एजेंट से बारीकी से पूछताछ की। देर रात तक लुटेरों का पता नहीं चला। पीड़ित कर्मचारियों के मुताबिक वारदात में तीन बदमाश शामिल थे। घटना के बाद उन्होंने बदमाशों का पीछा भी किया। लेकिन वे पकड़ नहीं सके।

पुलिस ने देर रात केस दर्ज किया

संजय सर्किल थाना पुलिस ने देर रात केस दर्ज किया।पुलिस के अनुसार चांदपोल अनाज मंडी में कारोबारी किशन पारीक का ऑफिस है। वह जयपुर में व्यापारियों के पैसे इधर उधर पहुंचाने का कमीशन पर काम करता है। रुपयों का कलेक्शन करने के लिए किशन पारीक ने हेतराम और जेठाराम नाम के दो लड़कों को काम पर रखा हुआ है। ये दोनों श्रीगंगानगर जिले के रहने वाले है। प्रारंभिक पड़ताल में सामने आया कि दोनों कर्मचारी मंगलवार को स्कूटी से बाजार में व्यापारियों से रुपयों का कलेक्शन कर अनाज मंडी पहुंचे।वे एक बिल्डिंग में पहली मंजिल पर बने ऑफिस में जाने के लिए सीढ़ियों के रास्ते से चढ़ रहे थे। तभी तीन नकाबपोश बदमाश पीछा करते हुए सीढ़ियों में चढ़े।

पूरी वारदात दो से तीन मिनट में कर भागे चोर

उन्होंने दोनों कर्मचारियों को पकड़ लिया और आंखों में लाल मिर्च पाउडर फेंक दिया। उनके पास पिस्तौलनुमा हथियार भी था। जिसको दिखाकर बदमाशों ने हेतराम और जेठाराम को डराया धमकाया।फिर करीब 28 लाख रुपयों से भरा बैग लूटकर फरार हो गए। वारदात में एक बैग कारोबारी के कर्मचारियों के पास ही रह गया। जिसमें करीब 1 लाख रुपए रखे थे। वारदात के बाद एसीपी मेघचंद मीणा सहित कोतवाली, जालूपुरा और संजय सर्किल थानाप्रभारी मौके पर पहुंचे और पड़ताल शुरु की। बदमाशों ने यह पूरी वारदात दो से तीन मिनट में कर भागे।