जयपुर के कालवाड़ थाना क्षेत्र के महेश वास रोड पर झाड़ियों में एक जिन्दा नवजात शिशु कन्या मिली। उसके बाद उधर से गुजर रहे समाजसेवी एवं पूर्व जिला प्रमुख नारायण कुलरिया ने कालवाड़ पीएससी सामुदायिक हॉस्पिटल में बच्ची को एडमिट कराया गया। डॉक्टर रिछपाल कुड़ी ने बच्ची की नाल काटकर नवजात बच्चे को कालवाड़ थाना के उप निरीक्षक तेजपाल सेन के द्वारा कानूनी कार्रवाई करते हुए जयपुर जेकेलोन हॉस्पिटल में रेफर किया गया। अब बच्ची की हालत बिल्कुल सकुशल सुरक्षित अवस्था में है। इस घटना की सूचना पर बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कन्या भ्रूण हत्या पर रोक लगाओ महाअभियान के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी सौरभ राघवेंद्र आचार्य महाराज भी नवजात की कुशल क्षेम लेने पहुंचे। स्वामी सौरभ राघवेंद्र आचार्य महाराज ने बच्ची के माता पिता को दोषी बताया। इसके बाद वही महाराज ने नवजात बच्ची को गोद लेने का ऐलान कर दिया। इस मौके पर पूर्व उप जिला प्रमुख नारायण कुलरिया, स्वामी सौरभ राघवेंद्र आचार्य महाराज, कालवाड चिकित्सा प्रभारी रिछपाल कुड़ी कालवाड़ थाना पुलिस हेड कांस्टेबल दीपेंद्र सिंह शेखावत कालवाड़ थाना अधिकारी गुरुदत्त सैनी सुनील मीणा राजेंद्र कुमार उपस्थित रहे।