छत्तीसगढ़ में कोरोना का कहर जारी है। शुक्रवार को प्रदेश भर में संक्रमण के 17,397 नए मामले आए। वहीं 219 मरीजों की मौत हो गई। इनमें से 143 ऐसे थे जिन्हें कोई दूसरी गंभीर बीमारी नहीं थी। कोरोना संक्रमितों और इससे हुई मौतों के ये आंकड़े एक दिन में सबसे ज्यादा हैं।प्रदेश में अब एक्टिव मरीजों की संख्या 1 लाख 23 हजार 479 हो गई है। अब तक महामारी से जान गंवाने वालों की संख्या 6,893 हो गई है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि छत्तीसगढ़ में कोरोना का सामुदायिक संक्रमण शुरू हो चुका है। यह महामारी में बेहद खतरनाक स्थिति है।बिलासपुर-दुर्ग में अचानक बढ़ीं मौतेंअभी तक कम गंभीर दिख रहे बिलासपुर में मौतों का आंकड़ा पिछले दो दिनों में तेजी से बढ़ा है। शुक्रवार को बिलासपुर में 40 मरीजों की मौत हुई। इससे पहले गुरुवार को 31 मौतें हुई थीं। वहीं दुर्ग में गुरुवार को 13 मौत हुई थीं, लेकिन शुक्रवार को अचानक 23 मरीजों की मौत ने चिंता बढ़ा दी है। शुक्रवार को कोरबा में 19, धमतरी में 14 और राजनांदगांव में 11 मरीजों की मौत हुई।बाहर से आने वालों को 27 अप्रैल से टेस्ट रिपोर्ट दिखानी होगीसरकार ने सभी जिलों के कलेक्टर और एसपी को आदेश दिए हैं कि प्लेन, ट्रेन या फिर सड़क के रास्ते छत्तीसगढ़ आने वाले यात्रियों की के लिए 27 अप्रैल से कोरोना रिपोर्ट दिखाना जरूरी होगा। यह रिपोर्ट 72 घंटे पहले की होनी चाहिए। ऐसा नहीं होने पर प्रशासन मौके पर ही यात्रियों की जांच करेगा। निगेटिव आए तो उन्हें होम क्वारेंटाइन और पॉजिटिव आए तो वहीं से अस्पताल अथवा आइसोलेशन सेंटर भेजा जाएगा। नजदीकी चेकपोस्ट पर जांच के लिए कियोस्क बनाया जाएगा। इस जांच का खर्च यात्री को ही उठाना होगा।रोजाना 60 हजार टेस्ट करने की कोशिश जारीछत्तीसगढ़ सरकार रोजाना 60 हजार कोरोना टेस्ट करने की कोशिश में है। अभी प्रति 10 लाख की आबादी पर 1,915 टेस्ट रोज हो रहे हैं। कोरोना टेस्ट का नेशनल एवरेज 1,480 है। छत्तीसगढ़ में शुक्रवार को 57,185 टेस्ट किए गए थे। राज्य में कुल टेस्ट में से 40% RTPCR हो रहे हैं।गरीबों को मई-जून का राशन फ्री में मिलेगासरकार ने अंत्योदय, गरीब, निराश्रित और प्राथमिकता श्रेणी वाले परिवारों को 2 महीने चावल फ्री देने का ऐलान किया है। इसका फायदा राज्य के 58 लाख 29 हजार 371 राशन कार्डधारक परिवारों को मिलेगा। सरकार ने 3 लाख 94 हजार 136 मीट्रिक टन चावल फ्री बांटेगी।