चूरू में मणण्पुरम गोल्ड फाईनेंस ऑफिस से कल दोपहर तीन बजे हुए 22 किलो सोने एवं 5 लाख नगदी की लूट के वारदात का आज पुलिस अधीक्षक नारायण टोगस ने खुलाशा कर दिया है। प्रेस कांप्रेंस करते हुए नारायण टोगस ने चैंकाने वाले खुलासे किए है। चूरू में लूट की वारदात को अंजाम देने वाले अंतर्राज्य गिरोह ने इस वारदात को अंजाम दिये है। दो आरोपी गिरफ्तर किए गए है शादाब मुजफरनगर (यूपी) और हनीश ठाकुर मौहाली (पंजाब) को पुलिस ने हिरासत में भागते समय हिसार के सोनवाला चैक से गिरफ्तर कर लिया है। इन आरोपियों पर 16 से 17 मामले लूट एवं हत्या के दर्ज है। दो लूटेरो जो भागने में सफल हुए है इनके नाम रणजीत फौजी पटियाला एवं अमजद मुजफरनगर है दोनों फरार हो गए है। इस गैंग का मुख्य सरगना रणजीत फौजी है, जो एनएसजी का बर्खास्त कमाण्डों है। रणजीत फौजी ने ही तीनों लूटेरों को अम्बाला में बुलाया था और वहां पर लूट का प्लान बनाया था। इन लूटेरों ने गत नवम्बर एवं मार्च में ही दो बड़ी लूट की वारदातो को अंजाम दिया है।

IMG 20210615 203310

वारदात को अंजाम देने के लिए दो मोटरसाईकिलें भी चोरी की एक सादलपुर से चुराई तो दुसरी मोटरसाईकिल चूरू से चुराई गई। मोटरसाईकिलों को पहले से मणण्पुरम ऑफिस के आगे खड़ कर दी। चूरू बाईपास के पर पहले से कार खड़ कर वारदात को अंजाम दिया गया था। पुसिल ने 22 किलों सोना, 5 लाख नगद, दो मोटरसाईकिलों चोरी गई, एक कार बरामद की है। इसके साथ खतरनाक हथियार भी बरामद किए गए है। जिसमें दो पिस्टल, दो चाकू भी बरामद किए गए है। दोनों आरोपियों को बापर्दा गिरफ्तर किया गया है। पूछताछ जारी है एवं दो आरोपियों की तलाश में भी पुलिस लगी हुई है। नारायण टोगस पुलिस अधीक्षक चूरू ने कहा कि हमारा हरियाणा पुलिस ने अच्छा सहयोग किया जिसकी वजह से इतनी बड़ी वारदात को महज तीन घण्टे में सुलझाना एवं लूटा हुआ 100 प्रतिशत माल बरामद करना बड़ी उपलब्धि मिली है। आरोपियों को पकड़ने की टीम में एएसपी योगेन्द्र फ़ौजदार, सिटी सीओ ममता सारस्वत, डीएसपी ओमप्रकाश गोदारा, एसीएसटीसेल के डीएसपी हिमांशु शर्मा, सदर थानाधिकारी अमित कुमार, दूधवाखारा थानाधिकारी रामविलास विश्नोई, चौकी इंचार्ज सुरेश कुमार व सिधमुख थानाधिकारी गुरप्रीत सिंह आदि ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया।

IMG 20210615 203333