गहलोत सरकार में 85 से 90 विधायकों को सत्ता और संगठन में जगह दी जाएगी !

0
94

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। राजस्थान में सियासी संकट अस्थायी तौर पर खत्म हो गया है लेकिन आलाकमान चाहता है कि इसका कोई स्थायी रास्ता निकले और सरकार को शांति से पांच साल सरकार को चलाया जाये और इस बिषय पर आलाकमान काफी गंभीर भी है और हर कदम को बडी गंभीरता से उठा रहा है !

कहा जा रहा है की CM गहलोत और आलाकमान ने एक फ़ॉर्मूला तैयार किया है जिसके तहत 85-90 विधायकों को सत्ता और संगठन में जगह दी जाएगी !

कांग्रेस आलाकमान ने तीन सदस्यीय कमेटी द्वारा बनाए गए इस फ़ॉर्मूले में अधिकांश विधायकों को सत्ता और संगठन में जगह देकर एडजस्ट किया जाएगा ! जिसके लिये राजस्थान विधानसभा सदस्य क़ानून में संशोधन भी किया जा सकता है !

बताया जा रहा है कि कुछ विधायकों को संसदीय सचिव विभिन्न निगमों व बोर्डों और UIT एवं प्राधिकरणों में बड़ी ज़िम्मेदारी देकर मनाया जाएगा लेकिन इन सब में पार्टी के सामने सबसे बड़ी समस्या ये है कि कुछ जगह विधायकों की नियुक्ति करने से आॉफिस ऑफ़ प्रॉफिट के उल्लंघन का डर है !