Jaipur। कोरोनावायरस की दूसरी लहर पूरी तरह से कॉल बन गई है और थमने के बजाय इससे संक्रमित रोगियों की संख्या बढ़ रही है वहीं दूसरी ओर संक्रमण से युवा पीढ़ी के मौतों का आंकड़ा भी तेजी से बढ़ता जा रहा है रोजाना मीडिया के द्वारा श्मशान घाटों की तस्वीरें ,मौत के आंकड़े ,ऑक्सीजन की कमी से दम तोड़ते रोगी, कोरोना से बचाव के लिए प्राणवायु माने जाने वाली दवाइयों का अभाव, सरकार और प्रशासन की व्यवस्थाएं और प्रयासों को लेकर लगातार खबरें प्रसारित की जा रही है और दिखाई जा रही है उसके बाद भी आमजन है कि मान नहीं रहा और चोरी छुपे शादियां, मृत्यु भोज जैसे आयोजन कर रहा है ।शादियो के बाद कही दूल्हन को तो कही दूल्हे को इस कोरोना रूपी काल ने ग्रास बना लियाऐसे ही एक और घटना भी सामने आई जब शादी के 9 दिन बाद ही कोरोना से दूल्हे की मौत हो गई और दुल्हन वैवाहिक जीवन को समझ पाती उससे पहले ही विधवा हो गई ।नव नवेली दुल्हन कृष्णा कंवर के हाथों की मेहंदी भी नहीं सूखी थी और वह अपने वैवाहिक जीवन को पूरी तरह से समझ भी नहीं पाई और इससे पहले ही कोरोना की रूप यमराज ने काल बनकर उसके जीवन साथी को छीन लिया । इस खबर को प्रसारित करने के पीछे हमारा उद्देश्य किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाना नहीं या दुख देना नहीं है बल्कि यह बताने का प्रयास कर रहे हैं कि इस कोरोना की महामारी और कोरोना संक्रमण यमराज बन चुका है।इससे संभल जाएं शादी मृत्यु भोज ऐसे आयोजनों को बिल्कुल नकार दें सरकार और प्रशासन बार-बार आप से अपील करता है सरकार और प्रशासन की अपील पर ध्यान दें।