जयपुर। राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष एवं प्रदेश शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा द्वारा वैश्य समुदाय पर की गई जातिगत टिप्पणी की अग्रवाल युवा सम्मेलन के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोज जिन्दल ने निंदा करते हुए कहा है कि, ये प्रदेश का दुर्भाग्य है, कि प्रदेश के, शिक्षा मंत्री का बातचीत का ये स्तर है कि समुदाय विशेष के लिए, इतनी ओछी मानसिकता रखते है कि, अनर्गल टिप्पणी कर दी। इस महामारी में सबसे ज्यादा त्रस्त, वैश्य व्यापारी वर्ग हुआ, फिर भी समाज में अपनी जान की परवाह न करते हुए,समाज के सभी भाई-बहिनों के लिये दिन रात सहयोगी की भावना निभाते हुए, सरकार और प्रशासन के साथ खड़ा रहा, और ऐसे समुदाय के लिये शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह के द्वारा की गई टिप्पणी से पता चलता है कि वो कितनी ओछी मानसिकता के शिकार है। शायद वो इस प्रकार की टिप्पणी करके ,खुद के द्वारा पैदा की गयी कांग्रेस की कलह से जनता का ध्यान भटकाकर, अपनी नाकामियों को छुपाना चाहते है। पूरा वैश्य समुदाय उनके इस बयान की घोर निंदा करते हुए माननीय मुख्यमंत्री से आग्रह करता है, कि इस प्रकरण में संज्ञान लेकर तुरंत प्रभाव से कार्यवाही करें। अगर समुचित कार्यवाही नहीं की गईतो अखिल भारतीय युवा अग्रवाल सम्मेलन पूरे प्रदेश में ज्ञापन देकर आंदोलन की ओर अग्रसर होगा। युवा सम्मेलन के अध्यक्ष मनोज जिन्दल ने बताया कि समाज के बन्धुओं में मंत्री जी के बयान को लेकर काफी रोष है ।