इस कारण हर वर्ष 14 सितंबर को मनाया जाता है हिन्दी दिवस, पीएम मोदी ने दी देशवासियों को शुभकामना…

0
162

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। देशभर में आज ​हिन्दी दिवस मनाया जा रहा है। हिन्दी दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देशवासियों को शुभकामनाएं दी और सोशल मीडिया पर लिखा कि, इस अवसर पर हिन्दी के विकास में योगदान दे रहे सभी भाषाविदों को मेरा हार्दिक अभिनंदन।

बता दें कि हिंदी न केवल हमारी राष्ट्रभाषा है, बल्कि देश में सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषाओं में से एक है। आज भले ही लोग अंग्रेजी बोलना पसंद करते है। लेकिन हिंदी की मिठास अभी भी लोगों की जुबान पर है। बहरहाल बता दें कि हर वर्ष 14 सितंबर को हिन्दी दिवस मनाया जाता है। लेकिन क्या आप जानते हो हर वर्ष 14 सितंबर को ही हिन्दी दिवस क्यों मनाया जाता है। आइए जानते है…

बता दें कि 14 सितम्बर 1949 को संविधान सभा ने एक मत से यह निर्णय लिया कि हिन्दी ही भारत की राजभाषा होगी। इसी महत्वपूर्ण निर्णय के महत्व को प्रतिपादित करने तथा हिन्दी को हर क्षेत्र में प्रसारित करने के लिये राष्ट्रभाषा प्रचार समिति, वर्धा के अनुरोध पर वर्ष 1953 से पूरे भारत में 14 सितम्बर को प्रतिवर्ष हिन्दी-दिवस के रूप में मनाया जाता है। एक तथ्य यह भी है कि 14 सितम्बर 1949 को हिन्दी के पुरोधा व्यौहार राजेन्द्र सिंहा का 50-वां जन्मदिन था, जिन्होंने हिन्दी को राष्ट्रभाषा बनाने के लिए बहुत लंबा संघर्ष किया। हिंदी दुनिया की तीसरी सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा है। हमारे देश में 77 प्रतिशत लोग हिंदी बोलते, समझते और पढ़ते हैं।