आवक घटने से एक सप्ताह में ही हरी सब्जियों के भाव हुए दोगुने, धनिया 300 रूपए तो आलू…

0
14

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। कस्बे में आवक घटने से हरी सब्जियों के भाव में अचानक उछाल आया है। बीते एक सप्ताह में ही कई हरी सब्जियों के भाव दोगुने हो चुके। पिछले माह 20 रुपए किलो तक बिकने वाले आलू के भाव 40 रुपए प्रति किलो तक जा पहुंच गए। दस रुपए किलो तक बिकने वाली लौकी का भाव 20 रूपए पार पहुंच गए है। अन्य सब्जियां के दामों में भी लगातार वृद्धि हुई है। सौ रूपए किलो बिकने वाला हरा धनिया 200 रूपए किलो जा पहुंचा। इससे सब्जियों से धनिए की खुशबू गायब हो गई है। खुदरा व्यापार में लगे मंजूर आलम ने बताया कि मांग बढ़ने व आवक में आई कमी के चलते आलू, लहसून व प्याज आदि के भावों मे भी उछाल आया है। कस्बे के सब्जी विक्रेताओं ने बताया कि बारिया के चलते सब्जियों की फसल नष्ट होने से भी समस्या बढी है। फिलहाल जयपुर व आसपास के क्षेत्रों से टमाटर, मिर्च, भिण्डी आदि की आवक हो रही है। व्यापारियों ने अगले दिनों में सब्जियों के दामों में और उछाल आने की सभावना जताई है।

ग्वारफली 70 तो लाल टमाटर 60 रुपए तक बिक रहा

लॉकडाउन में 5 से 10 रुपए किलो तक बिकने वाले लाल टमाटर के भाव में भी काफी उछाल आया है। इन दिनों लाल टमाटर 60 रुपए प्रति किलो तक बिक रहा है। ग्वारफली 70, ककोड़ा 50 तो हरी मिर्च का भाव 400 रुपए प्रति किलो तक पहुंच गया। इसी प्रकार लहसून 60, अदरक 70, नीबू 40, भिंडी 30, टिंडे 40, प्याज 30, करेला 40 रुपए प्रति किलोग्राम बिक रहा है।