भीलवाड़ा देश और प्रदेश का आम आदमी वर्तमान मे कोरोना संकट के दौर से गुजर लहा है आर्थिक हालत सबकी बिगडी हुई है ऐसे मे पेट्रोलियम कंपनियों ने पेट्रोल डीजल के दामो मे लगातार बढोत्तरी के बाद आज सवेरे-सवेरे घरेलू गैस सिलेंडरो की दरे बढा कर आम आदमी को जबरदस्त झटका देते हुए कमर तोड दी है। इसे यूं कहें तो अभी छुट्टी नहीं हुई थी पेट्रोलियम कंपनियां पूरी तरह से बेलगाम हो गई है और सरकार का इन पर एक तरह से कोई नियंत्रण नहीं रहा ।

पेट्रोल ₹106 के नजदीक पहुंच गया है तो बिना सब्सिडी के घरेलू गैस सिलेंडर के दाम भी ₹800 के पार यानी 838 रुपए 50 पैसे के स्तर पर पहुंच गए हैं। दरअसल पिछले 6 महीने में घरेलू गैस के दामों में ₹250 की वृद्धि हो चुकी है ।

गैस वितरण कंपनियों की मनमानी का आलम यह है कि पिछले 6 महीने में आज चौथी बार घरेलू सिलेंडर के दाम में वृद्धि की गई है। आज एक बार फिर घरेलू गैस सिलेंडर में 25 रुपए 50 पैसे प्रति सिलेंडर की वृद्धि की गई जबकि वाणिज्यिक सिलेंडर में 84 रूपए की वृद्धि की गई।इसका सीधा मतलब है कि घरेलू गैस में पिछले 6 महीने में प्रति सिलेंडर ₹250 की वृद्धि की गई है अब इस महीने 14.2 किलो का घरेलू गैस सिलेंडर 838 रुपए 50 पैसे में मिलेगा तथा कमर्शियल सिलेंडर 1572 रुपए का मिलेगा ।

राज्य व केन्द्र सरकार का कितना हिस्सा

प्रत्येक घरेलू गैस सिलेंडर पर केंद्र और राज्य सरकार प्रत्येक को 19 रुपए 60 पैसे और कमर्शियल सिलेंडर पर केंद्र और राज्य सरकार प्रत्येक को प्रति सिलेंडर 123 रुपए 94 पैसे मिल रहे हैं। लगातार मनमाने तरीके से कीमतों में वृद्धि में आम आदमी का बजट को बिगाड़ दिया ही है साथ ही कोरोना संकट के दौर में 2 जून की रोटी पर भी मुश्किलें खड़ी कर दी हैं।