अब केजरीवाल सरकार ने केन्द्र सरकार से करी मांग की रद्द कर दी जाए…

0
184

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। देश में इस समय कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बड़ी तेजी के साथ आगे बढ़ती जा रही है। आएं दिन नए नए रिकॉर्ड के साथ मरीजों की संख्या में ईजाफा होता नजर आ रहा है। राजधानी दिल्ली में कोरोना ने उग्र रूप धारण कर रखा है। हालांकि दिल्ली सरकार इस पर काबू पाने के लिए पूरी मेहनत करती नजर आ रही है। बहरहाल इसी बीच दिल्ली सरकार ने केन्द सरकार से एक अपील की है।

सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार राजधानी दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने केन्द्र सरकार को बताया कि इस समय देश के साथ साथ दिल्ली में भी कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। ऐसे में इसे देखते हुए जेईई और नीट की प्रवेश परीक्षा रद्द कर दें। साथ ही डिप्टी सीएम ने यह भी कहा कि इस वर्ष को एक वैकल्पिक प्रवेश पद्धति के तौर पर उपयोग किया जाना चाहिए और परीक्षा आयोजित नहीं की जानी चाहिए।

उन्होंने कहा कि अगर सरकार इस कोरोना महामारी में जेईई और नीट की परीक्षा कराती है तो ये कोरोना काल में बड़ी मुसीबत हो सकती है। इसलिए मैं केंद्र सरकार से अपील करता हूं कि दोनों परीक्षाओं को तुरंत रद्द करें और एक वैकल्पिक प्रवेश प्रक्रिया अपनाएं। गौरतलब है कि सितंबर में होने वाली जेईई और नीट की परीक्षाओं को रद्द करने के लिए सर्वोच्च अदालत में रोक की याचिका दायर की गई थी। लेकिन हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने उस याचिका को खारिज कर दिया।