अधरशीला अखाड़े की एक नई पहल

0
15

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। जिस तरह जिस्म को मज़बूत रखने के लिए कसरत ज़रूरी है। उसी तरह ईमान को मज़बूत रखने के लिए दीन-ए-इस्लाम की जानकारी बहुत ज़रूरी है। इसी सिलसिले की शुरआत की अधरशीला अखाड़े के उस्ताद (पहलवान) इरफ़ान भाई ने जिसके तहत उन्होंने एक प्रतियोगिता की शुरूआत की। जिसमें अखाड़े पर आने वाले सभी पहलवानों का एक व्हाट्सप्प ग्रुप बनाया। उसमें दीन के ताल्लुक से रोज़ाना एक सवाल किया जाता है। जिसका सबसे पहले सही जवाब देने वाले पहलवान को घी, काजू, बादाम, चने और जिस्म में ताकत पैदा करने वाली अन्य चीज़े इनाम में हौसला अफज़ाई के तौर पर दी जाती है। इसी क्रम में वेलफेयर पार्टी ऑफ़ इंडिया, कोटा के ज़िला सचिव जावेद अख़्तर अंसारी और कार्यकारिणी सदस्य ईस्माइल मिर्ज़ा ने प्रतियोगिता में जितने वाले पहलवानों को बादाम और चने देकर उनकी हौसला अफज़ाई की।