पाक की खुफिया महिला एजेंट की मीठी-मीठी बातों से हनी ट्रैप में फंसे पोस्टमैन को सस्पेंड कर दिया गया है। महिला एजेंट पोस्टमैन से पिछले 6 महीने से वॉट्सऐप पर बातें कर रही थी। महिला एजेंट ने पोस्टमैन को एक रिश्तेदार का आर्मी की अच्छी यूनिट में ट्रांसफर करने का झांसा दिया। उससे आर्मी के लेटर की फोटो मंगवाने लग गई। पोस्टमैन रेलवे डाक सेवा में लगा हुआ था। आरोपी को 10 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था। आर्मी इंटेलिजेंस ने जांच के बाद पोस्टमैन को जेल भेज दिया है।

जोधपुर के खेड़ापा के रहने वाले भरत बावरी (27) को आर्मी इंटेलिजेंस ने गिरफ्तार किया था। उसकी तीन साल पहले रेलवे के डाक विभाग में नौकरी लगी थी। वह जयपुर में आर्मी की डाक की छंटनी करता था। पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी की महिला एजेंट ने उसे हनीट्रैप में फंसा लिया था।

6 महीने पहले उसके मोबाइल पर फेसबुक मैसेंजर से महिला का एक मैसेज आया था। भरत ने मैसेंजर पर ही उसे जवाब दिया। तब धीरे-धीरे दोनों के बीच बातें होने लगी। फिर दोनों ने एक-दूसरे के मोबाइल नंबर ले लिए। महिला एजेंट ने उसे वॉट्सऐप पर कॉल किया। उसे प्यार भरी मीठी-मीठी बातों के जाल में फंसा लिया। उसके साथ अश्लील बातें की।