निर्भया केस : जानिए क्या हुआ फांसी से पहले चारों दोषियों के साथ…

0
101
Nirbhaya

मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। पुरे देश को हिला देने वाला निर्भया गैंगरेप और मर्डर केस की अंतिम घडी आ गयी है । निर्भया के चारों दोषियों को 20 मार्च को सुबह पांच बजे तिहाड़ जेल में फांसी की सजा दी जाएगी। जिसकी तैयारी बुधवार यानी की 18 मार्च से शुरू कर दी गयी है। सूत्रों के मुताबिक बुधवार को चारों दोषियों के मानव पुतलों को सजा देने का ट्रायल किया गया जहाँ जेल से फांसी कोठी तक मानव पुतलों को लेकर आने और फांसी तख़्त पर फांसी देने तक का सारा समय नोट किया गया। ट्रायल के दौरान जेल के डीजी सहित अन्य अधिकारी और डॉक्टरों की पूरी टीम मौजूद रही। चारों दोषियों के पुतलों को करीब आधा घंटे तक लटका रहने दिया गया। जेल अस्पताल के वरिष्ठ अधिकारी के कहने के बाद पुतलों को उतारा गया। उन्होंने चारों मानव पुतले रूपी शवों का पोस्टमार्टम कराने का आदेश दिया।

जेल सूत्रों ने ये जानकारी देते हुए बताया कि फांसी देने के ट्रायल को लेकर उसका एक-एक मिनट का समय नोट किया गया। साथ ही माना जा रहा है कि गुरुवार को भी फांसी देने का ट्रायल हो सकता है। आपको बता दें कि सभी दोषियों को फांसी देने से पहले चारों को उनकी ही cell में नहलाया जाएगा। चारों दोषियों को जल्लाद उनके जेल CELL से फांसी कोठी तक लेकर आएगा और एसडीएम का इशारा मिलने के बाद उन्हें फांसी देगा।

जेल सूत्रों के मुताबिक फांसी कोठी के पास बनी अन्य cell को खाली करा लिया गया है और जेल के सुरक्षाकर्मियों को तैनात कर दिया गया है । चारों दोषीयो के अंदर फांसी को लेकर बेचैनी साफ़ ज़ाहिर हो रही है जिस कारण वे सुबह शाम मिलने वाला खाना भी कम खा रहे हैं रात को देर तक जागते रहते हैं। फांसी के पहले चारों को लाल कपड़े पहनाए जाएंगे । बताया जा रहा है लाल रंग के कपड़ों का मतलब है कि वह डेंजर जोन में हैं।