आइए जानते है, दिल्ली की बिगड़ती कानून व्यवस्था आखिर किसके हवाले…

0
114

मरुधर बुलेटिन न्यूज़ डेस्क। दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजें आने के बाद यह साफ हो गया कि दिल्ली आप की हो गई है। आम आदमी पार्टी ने इस बार 70 में से 62 सीटों पर कब्जा जमाया है। जबकि भाजपा ने पिछले साल के मुकाबले 5 सीटों की बढ़त हासिल करते हुए 8 सीटें हासिल की है। भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने अरविंद केजरीवाल को बधाई दी। साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने भी केजरीवाल को बधाई देते हुए कहा कि वे दिल्ली वालों की उम्मीदों को पूरा करें। विधान सभा चुनाव में कांग्रेस की हालत में कोई सुधार नही हुआ है। दिल्ली में कांग्रेस का सूपड़ा पूरी तरह साफ हो गया है। लगातार 15 वर्षों तक दिल्ली में कांग्रेस की सरकार रही लेकिन अब हालात कुछ यूं जैसे एक थी कांग्रेस। पिछले विधानसभा चुनाव में भी कांग्रेस पार्टी शून्य पर ही आउट हो गई थी और इस बार के चुनाव में भी खाता नही खोल पाई है। हालांकि राहुल गांधी ने अरविंद केजरीवाल को जीत की बधाई दी।

अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली विधानसभा में हैट्रिक लगाई। शुरुआती 15 मिनट के रुझानों में ही ये साफ हो गया कि आम आदमी पार्टी 50 से ज्यादा सीटों पर पकड़ बनाए हुए है। जिसके बाद से ही आप पार्टी के कार्यकर्ताओ में जोरदार उत्साह नजर आया। हालांकि दिल्ली विधानसभा के परिणाम घोषित होने के बाद एक अप्रिय घटना भी सामने आई है जिससे दिल्ली की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े हो जाते है। महरौली विधानसभा से आप विधायक नरेश यादव की गाड़ी पर देर रात एक अज्ञात बदमाश ने फायरिंग शुरु कर दी जिसमें एक आप कार्यकर्ता की मौत हो गई जबकि एक कार्यकर्ता घायल हो गया। ये घटना रात के करीब 11 बजे की है। दक्षिण-पश्चिम दिल्ली के किशनगढ़ से रात 11 बजे के करीब नरेश यादव मंदिर से दर्शन करके लौट रहे थे। यादव की गाड़ी अरुणा आसिफ अली रोड पर ट्रैफिक सिग्नल पर रुकी तभी एक युवक ने पीछे से आकर फायरिंग शुरु कर दी। जिसमें आप कार्यकर्ता अशोक मान की मौत हो गई और हरेंन्द्र सिहं के पेट में गोली लगी है जिन्हे ईलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जबकि हमलावर वारदात को अंजाम देने के बाद भागने में कामयाब रहा। इस घटना पर नरेश यादव व आप सांसद संजय सिंह ने दुख जताया है। बता दें कि, पुलिस मामले की जांच में जुट गई है और जल्द ही हमलावर का पता लगा लिया जाएगा।