जयपुर:Mahima Jain:कोरोना ने एक बार फिर विकराल रूप लेना शुरू कर दिया है प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 40 नए केस मिले है। 5 अगस्त के बाद राज्य में 30 से ज्यादा मरीज मिले हैं। इसमें 25 मरीज केवल जयपुर में मिले है। जयपुर में हुए कोरोना विस्फोट के बाद हड़कंप मच गया है। जयपुर में जो मरीज मिले है, उससे ओमिक्रॉन वैरियंट के केस और ज्यादा फैलने का खतरा बढ़ गया है। इनमें 11 ऐसे मरीज हैं, जो ओमिक्रॉन पॉजिटिव और संदिग्धों के संपर्क में आए है। रिपोर्ट मिलने के बाद सीएमएचओ की टीम ने सभी को संदिग्ध मानते हुए उनके सैंपल जिनोम सिक्वेंसिंग के लिए भिजवाए है।

जयपुर सीएमएचओ डॉ. नरोत्तम शर्मा ने बताया कि आदर्श नगर में जो परिवार ओमिक्रॉन संक्रमित मिला है। उसी परिवार के संपर्क में आए 3 और सदस्यों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव मिली हैं। इन सभी 3 लोगों को अब आरयूएचएस में शिफ्ट किया जाएगा। वहीं, वैशाली नगर में जो जर्मनी से परिवार आया था। उसमें एक व्यक्ति की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव मिली थी। उस परिवार के संपर्क में आए 8 अन्य लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है, जिन्हें भी संदिग्ध माना है। उनकी जिनोम सिक्वेंसिंग की जांच के लिए सैंपल भिजवाए गए है।

download 4

यहां मिले केस

जयपुर के अलावा आज हनुमानगढ़, अलवर में 4-4 केस, जोधपुर, अजमेर और उदयपुर में 2-2 केस, जबकि बीकानेर में एक केस मिला है। राज्य में आज कुल 24 मरीज रिकवर हुए है, जिसके बाद एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 236 हो गई।

8 दिन में 92 मरीज

जयपुर में पिछले 8 दिन की रिपोर्ट देखें तो अब तक 92 कोरोना संक्रमित मिल चुके है। इनमें 9 मरीज तो ऐसे हैं जो कोरोना के नये वैरियंट ओमिक्रॉन से संक्रमित है। वहीं 15 से ज्यादा मरीज संदिग्ध है, जिनकी जिनोम सिक्वेंसिंग की जांच आना बाकी है। ये वे मरीज है जो इन ओमिक्रॉन वैरियंट से संक्रमित परिवार के संपर्क में आए है। वहीं कुछ ऐसे भी मरीज है जो विदेशों से यात्रा करके जयपुर पहुंचे है और कोरोना पॉजिटिव मिले है। जयपुर में बढ़ते संक्रमित मरीजों को देखते हुए सरकार ने अब महात्मा गांधी हॉस्पिटल को भी कोरोना संक्रमितों को आईसोलेट करने और इलाज के लिए अधिकृत किया है।