जयपुर|Mahima Jain:राजस्थान में एक बार फिर कोरोना के डराने वाले आंकड़े सामने आए हैं। जयपुर के जयश्री पेरीवाल अंतरराष्ट्रीय स्कूल में एक ही दिन में 11 बच्चे कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इसके बाद स्कूल प्रबंधन ने स्कूल एक हफ्ते के लिए बंद कर दिया है। इस स्कूल में पढ़ने वाले 12 बच्चों के सैंपल लिए गए थे। 11 बच्चे संक्रमित मिले हैं। इनमें 2 जयपुर के हैं।जयश्री पेरीवाल अंतरराष्ट्रीय स्कूल के कॉडिनेटर अनुज शर्मा ने बताया की डे-बोर्डिंग होने की वजह से स्कूल में लगातार छात्रों का चैकअप किया जाता है। मुंबई से आए एक स्टूडेंट कोरोना पॉजिटिव मिला था, इसके बाद कांटेक्ट ट्रेसिंग कर अन्य बच्चों के भी सैंपल लिए गए थे। इनमें 11 बच्चे पॉजिटिव मिले हैं। सभी एसिमटोमैटिक है। स्टूडेंट भी डे बॉर्डिंग में पढ़ने वाले हैं। शर्मा ने बताया कि इस दौरान ऑनलाइन पढ़ाई चालू रहेगी, ताकि स्कूल के दूसरे बच्चे घर बैठकर पढ़ सकें। बताया जा रहा है कि यह बच्चे 11वीं क्लास के हैं।

thequint 2020 10 11581d31 1075 459f 9530 e9792c8d5310 16101 pti16 10 2020 000040b

दीपावली के बाद से कोरोना का डरावना मंजर

जयपुर में 15 नवंबर से 100 प्रतिशत क्षमता के साथ स्कूल शुरू हुए थे। शहर में नवंबर में अब तक कुल 19 बच्चे संक्रमित मिल चुके हैं। इसमें से ढाई साल के एक बच्चे की तो इलाज के दौरान आरयूएचएस में मौत हो गई थी। बड़े स्कूलों की बात करें तो सवाई मानसिंह स्कूल में कुछ बच्चे पॉजिटिव आए थे, इसके बाद जयश्री पेरीवाल स्कूल में भी पिछले दिनों एक छोटा बच्चा पॉजिटिव मिला था। वहीं नीरजा मोदी स्कूल का भी एक स्टूडेंट पिछले दिनों पॉजिटिव आया था, लेकिन वह बच्चा दीपावली बाद से स्कूल नहीं गया था। आज फिर 11 नए केस जयश्री पेरीवाल स्कूल में मिलने के बाद स्कूल प्रबंधन ने बड़े बच्चों के स्कूल को 7 दिन के लिए आज से बंद कर दिया है।

डर का माहौल

स्कूल में बच्चों के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद पेरेंट्स में डर का माहौल है। पैरेंट अमित खंडेलवाल ने बताया कि फिलहाल वैक्सीन छोटे बच्चों को नहीं लगी है। ऐसे में जब तक छोटे बच्चों को वैक्सीन की दोनों डोज नहीं लग जाती, तब तक पूरी क्षमता के साथ स्कूल नहीं खोले जाने चाहिए।

आकडो में इजाफा

राजस्थान में पिछले 24 घंटे की रिपोर्ट देखे तो जयपुर, अजमेर समेत 7 जिलों में कोरोना के 22 नए मरीज मिले हैं। 21 अगस्त के बाद पहली बार राजस्थान में एक दिन में कोरोना के 20 से ज्यादा केस आए हैं। जयपुर में सबसे ज्यादा 11 केस मिले हैं। चिंता वाली बात ये है कि 3 व्यक्ति ऐसे हैं, जिनका एड्रेस चिकित्सा विभाग ट्रेस नहीं कर पाया है।