जयपुर|Deepika Jangir: देश में कोरोना की दूसरी लहर के बाद ही चिंता जताई गई थी कि तीसरी लहर भी जरूर आएगी. दुनिया के कई देशों में तीसरी लहर (Third Wave) का कहर शुरू हो चुका है. हालांकि महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने अब कह दिया है कि दिसंबर में कोरोना वायरस महामारी की तीसरी लहर आने की आशंका है, लेकिन इसका प्रभाव हल्का होगा.

905038 coronavirus children 2343

टोपे के मुताबिक, राज्य में टीकाकरण की दर अधिक है और इसलिए तीसरी लहर हल्की होने की उम्मीद है। उन्होंने आगे बताया कि थर्ड वेव के दौरान मेडिकल ऑक्सीजन और आईसीयू बेड की जरूरत नहीं होगी।वहीं एक्सपर्ट्स का भी दावा है कि लहर समय-समय पर अपनी निश्चित फ्रीक्‍वेंसी में आती हैं। पहली वेव सितंबर 2020 में आई थी। दूसरी लहर अप्रैल 2021 में आई थी। अब तीसरी लहर दिसंबर में आने की आशंका है।

हालांकि दिसंबर में तीसरी लहर आने की उम्मीद है, जो टीकाकरण किया गया है. वह यह सुनिश्चित करेगा कि संक्रमण बहुत हल्का होगा और आईसीयू और ऑक्सीजन की आवश्यकता कम होगी. उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में मृत्यु दर 2.12 प्रतिशत के साथ देश में सबसे अधिक है. राज्य में फिलहाल 9,678 सक्रिय मामले हैं लेकिन रोजाना नए मामलों में काफी कमी आई है. टोपे ने यह भी कहा कि राज्य में टीकों की कोई कमी नहीं है. हमारे पास टीकों का अधिशेष है. वर्तमान में हमारे पास 1.77 करोड़ टीके उपलब्ध हैं. कोविशील्ड स्टॉक 1.13 करोड़ और कोवैक्सिन 64 लाख है.