डेस्क न्यूज़: पूरी दुनिया की नाक में दम रखने वाले चीन ने डोकलाम के पास भारत की जमीन पर कब्जा करते हुए तीन गांवों को बसाया है। यह बात मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने गुरुवार को कही। कांग्रेस की तरफ से कहा गया है कि चीन सीमा पर मोदी सरकार बेशर्मी से राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ अक्षम्य समझौता कर रही है। कांग्रेस ने कहा है कि इस मामले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की चुप्पी परेशान करने वाली है।

चीन ने डोकलाम के पास चार गांव बनाकर करीब 100 वर्ग KM जमीन पर कब्जा किया

कांग्रेस प्रवक्ता गौरव वल्लभ ने गुरुवार को प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ”चीन ने डोकलाम के पास चार गांव बनाकर करीब 100 वर्ग किलोमीटर जमीन पर कब्जा कर लिया है, फिर भी केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार चुप है।” इस बारे में सरकार और पीएम अब और नहीं छिपा सकते। इस पर उन्हें अब जवाब देना होगा।

चीन

कांग्रेस प्रवक्ता गौरव वल्लभ ने बताया कि जो नई सैटेलाइट तस्वीरें सामने आई हैं, उससे साफ है कि चीन ने पहले भी भूटान के इलाके में कई चीनी गांव बनवाए हैं। लगभग 100 किमी (25,000 एकड़) में कई गांव दिखाई दे रहे हैं। यह सब मई 2020 के बाद हुआ।

चीन ने डोकलाम के पास भूटान के साथ अपने विवादित क्षेत्र में पिछले डेढ़ साल में भारी निर्माण किया

चीन

गौरव वल्लभ ने आगे कहा कि भारत और चीन का 2017 में डोकलाम में भी आमना-सामना हुआ था। अब चीन ने वहां गांव बना लिए हैं। यह नया निर्माण भारत के लिए बेहद चिंताजनक है। इससे सीमा पर हमारे जवानों के लिए मुश्किल होगी।

ओपन सोर्स इंटेलिजेंस डिट्रेस्फा ने लेटेस्ट सैटेलाइट इमेज शेयर करते हुए कहा है कि चीन ने डोकलाम के पास भूटान के साथ अपने विवादित क्षेत्र में पिछले डेढ़ साल में भारी निर्माण किया है। यह निर्माण 100 किमी के क्षेत्र में है। बताया जा रहा है कि चीन ने तीन-चार गांव बनाए हैं और यहां बड़े पैमाने पर सैनिकों की तैनाती भी की है। यह पूरा इलाका भारत के चिकन नेक कहे जाने वाले सिलीगुड़ी कॉरिडोर के पास स्थित है। ऐसे में भारत निश्चित रूप से इससे चिंतित होगा।

70 साल में गंदी हुई यमुना दो दिन में साफ़ नहीं हो सकती; CM अरविंद केजरीवाल

Follow us on:

Facebook

Instagram

YouTube

Twitter