Isfurti Singh : BSE सेंसेक्स अभी 1160 अंकों से ज्यादा की गिरावट के साथ कारोबार कर रहा है। सुबह BSE 540.3 अंकों की गिरावट के साथ 58,254.79 पर खुला। वहीं, अब तक की ट्रेडिंग के दौरान इसमें 1,488.01 अंकों की गिरावट आ गई। दूसरी तरफ, निफ्टी में भी अब तक 448.05 अंकों की गिरावट देखने को मिली है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक कोविड-19 के नए वैरिएंट से इकोनॉमी की रिकवरी प्रभावित हो सकती है। इस डर से निवेशकों में घबराहट है और इतनी गिरावट देखने को मिल रही है। अभी BSE सेंसेक्स 1277.25 अंक या 2.17% नीचे 57,517.84 अंकों पर और निफ्टी 391.60 अंक या 2.23% नीचे 17,144.65 अंकों पर कारोबार कर रहा है। फार्मा के अलावा बाकी सभी सेक्टोरल इंडेक्स में गिरावट है। सबसे ज्यादा गिरावट रियल्टी, मीडिया और बैंकिंग स्टॉक्स में देखी जा रही है।सेंसेक्स के 30 में से 29 शेयर लाल निशान में है। बढ़त वाले शेयरों में केवल डॉ. रेड्डीज है। सबसे ज्यादा गिरावट बजाज फिनसर्व, बजाज फाइनेंस, मारूती के स्टॉक में देखने को मिल रही है। गिरावट के तीन कारण
नया कोविड वैरिएंट:
दक्षिण अफ्रीका में कोरोना वायरस का नया वैरिएंट मिला है। वैरिएंट के सामने आने के बाद भारत सरकार के स्वास्थ्य सचिव ने निर्देश जारी किया है कि भारत आने वाले सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की सघन कोरोना जांच की जाए।

FII सेलिंग:
एनएसई के पास उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक फॉरेन पोर्टफोलियो इन्वेस्टर (FPI) ने घरेलू स्टॉक्स में 2,300.65 करोड़ रुपए की बिकवाली की है। ये बिकवाली डोमेस्टिक इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स (DIIs) की खरीदारी से ज्यादा है। बिकवाली ने निवेशकों के उत्साह को भी कम कर दिया है।

एशियन मार्केट्स से कमजोर संकेत
सभी एशियन मार्केट में भी गिरावट का रुख है, जिसका असर घरलू बाजार पर भी देखने को मिल रहा है। SGX निफ्टी, निक्केई, स्ट्रेट टाइम्स, हैंगसेंग, ताइवान वेटेड, कोस्पी, शंघाई कंपोजिट सभी में 1-2% की गिरावट है।