जयपुर | Mahima Jain:एक्ट्रेस कटरीना कैफ और एक्टर विक्की कौशल की शादी की तैयारियां धूम धाम से शुरू हो गई हैं। वही अभिनेत्री कटरीना कैफ के फैंस भी शादी को लेकर काफी उत्सुख है साथ ही शादी में वर्ल्ड फेमस सोजत की मेहंदी कटरीना के हाथ में रचेगी। इसके लिए सोजत में तैयारियां भी शुरू हो गई हैं। यहां मेहंदी के ऑर्डर पहुंच चुके हैं। अब जल्द ही इस रॉयल शादी के लिए मेहंदी बनानी शुरू की जाएगी। खास बात यह हैं कि मशीन से तैयार होने वाली ये मेहंदी इस शादी के लिए हाथों से तैयार की जाएगी। जिसे एक-दो बार नहीं तीन बार छाना (ट्रिपल फिल्टर) जाएगा।

kaitrina kaif vicky kaushal roka

आर्गेनिक महेंदी बनाई जा रही

कटरीना के हाथों में रचने वाली मेहंदी पूरी तरह से ऑर्गेनिक होगी।विक्की-कटरीना की शादी राजस्थान के सवाई माधोपुर की होटल सिक्स सेंस बरवाड़ा फोर्ट में होगी। 7, 8 व 9 दिसंबर तक उनके शादी फंक्शन होंगे। इसको लेकर सोजत के मेहंदी व्यवसायी नितेश अग्रवाल की कंपनी नेचुरल हर्बल को 20 किलो मेहंदी पाउडर व 400 मेहंदी कोन का ऑर्डर मिला हैं। 25 अक्टूबर को पहला व 10 नवम्बर को दूसरा सैंपल इन्होंने भेजा था, जो पसंद आ गया। एक दिसंबर से मेहंदी इवेंट कम्पनी को जयपुर भेजनी है।

मेहंदी व्यवसायी नितेश अग्रवाल ने बताया कि मेहंदी की फसल को कीट न लगे इसलिए अमूमन किसान खेतों में खड़ी मेहंदी की फसल पर केमिकलयुक्त कीटनाशक दवा का छिड़काव करते हैं। कटरीना और शाही मेहमानों के हाथों को नुकसान न पहुंचे, इसलिए बिना कीटनाशक दवा के छिड़काव वाली ऑर्गेनिक मेहंदी तैयार की जा रही है। मेहंदी के कोन व पाउडर तैयार किए जाएंगे।मेहंदी पाउडर को तैयार करने के लिए एक बार मशीन से छाना जाता है, लेकिन कटरीना के लिए तीन बार मेहंदी पाउडर को पीसने के बाद हाथों से छाना जाएगा, ताकि न कोई दाना आए न त्वचा को नुकसान हो।

मेहंदी में केमिकल की जगह लौंग, नीलगिरी व टी-3 नेचुरल ऑयल यूज किया जाएगा।पाली जिले की सोजत की विश्व प्रसिद्ध मेहंदी इससे पहले ऐश्वर्या रॉय, प्रियंका चोपड़ा सहित कई फिल्मी स्टार व उद्योगपतियों की बेटियों के हाथों पर रच चुकी है। जोधपुर, जयपुर, उदयपुर, सवाई माधोपुर, जैसलमेर में वे शाही तरीकों से शादी करना पसंद करते हैं।

मेहंदी दे रही एक लाख लोगों को रोजगार

सोजत मेहंदी व्यापार संघ के सचिव विकास टांक ने बताया कि सोजत की मेहंदी करीब एक लाख लोगों को रोजगार मिल रहा हैं। सोजत में करीब 150 जगहों पर मेहंदी बनाई जाती है, जो मेहंदी पैकिंग, कोण आदि बनाने का काम करती हैं। यहां 130 के करीब देशों में मेहंदी एक्सपोर्ट होती हैं। जो मुख्य रूप से हाथों व बालों में लगाने के काम आती हैं। सोजत, मारवाड़ जंक्शन, रायपुर व जैतारण तहसील में मेहंदी की फसल होती हैं। इकाइयों में काम करने वाले मजूदर, मेहंदी की कटिंग करने वाले श्रमिक, किसानों व्यापारियों को मिला ले तो करीब एक लाख लोगों को मेहंदी से रोजगार मिल रहा हैं। सालाना 50 हजार करोड़ टन मेहंदी का व्यापार होता हैं। यहां करीब 4 हजार करोड़ का सालाना मेहंदी का व्यापार हैं।