सुजानगढ़|Deepika Jangir: राजस्थान में बरसात के अलर्ट के बीच शेखावाटी में मौसम का मिजाज रविवार को बिगड़ गया। सुजानगढ़ चूरू शेखावाटी अंचल के सहित आसपास के इलाकों में बादलों के बढ़े जमघट ने सूरज को उगने ही नहीं दिया। आद्रता के साथ हवाओं की रफ्तार भी अचानक बढ़ गई। इससे न्यूनतम तापमान बढ़ोत्तरी के बावजूद भी सर्दी का सितम बढ़ गया। जिससे बचने के लिए लोग खुद को पूरी तरह से लबादों में ढके नजर आ रहे हैं। मौसम का मिजाज बिगडऩे व रविवार का अवकाश होने की वजह से ज्यादातर लोग तो रजाई में ही दुबके हुए हैं। सुबह लोग गरम नमकीन आदि कचोरी की दुकानों पर नजर आए भीड़ भी नजर आई मौसम विभाग के अनुसार आज पश्चिमी विक्षोभ के असर से पश्चिमी राजस्थान में दो दिन बरसात के आसार हैं।

राजस्थान में आज से बरसात का अलर्ट
स्काई मेट वेदर रिपोर्ट के अनुसार अगला मजबूत पश्चिमी विक्षोभ एक प्रेरित चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र उत्तर पश्चिमी राजस्थान और आसपास के क्षेत्रों में बना हुआ है। 26 से 28 दिसंबर के बीच राजस्थान के पश्चिमी और उत्तरी हिस्सों, बारिश उत्तर पश्चिमी भारत में 28 दिसंबर तक न्यूनतम तापमान सामान्य के करीब या सामान्य से थोड़ा अधिक रहने की संभावना है। उत्तर पश्चिमी भारत में 29 दिसंबर से और देश के मध्य और पूर्वी हिस्सों में 30 दिसंबर से 3 से 4 डिग्री की गिरावट का अनुमान है।

4.4 डिग्री बढ़ा तापमान
पश्चिमी विक्षोभ के असर से छाए बादलों से शेखावाटी में तापमान रविवार को फिर बढ़ गया। अनुसंधान केंद्र में न्यूनतम तापमान 11.8 डिग्री दर्ज हुआ। जो शनिवार के मुकाबले 4.4 डिग्री ज्यादा रहा। मौसम विभाग के अनुसार बादलों की वजह से आगामी कुछ दिनों तक न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे पहुंचने के आसार नहीं है। अंचल में रविवार को धुंध का असर भी रहा। जो रविवार रात से ही शुरू हो गया। धुंध की वजह से दृश्यता भी प्रभावित हुई। जिसका असर शहरों के आबादी क्षेत्र के मुकाबले खुले व ग्रामीण इलाकों में ज्यादा रहा।