जयपुर|Mahima Jain:राजस्थान में ग्रामीण विकास अधिकारी प्री परीक्षा का तीसरा चरण शुरू हो गया है। प्रदेश के 26 जिलों में 2 दिन तक चार पारियों में होने वाली इस परीक्षा में कुल 14 लाख 92 हजार अभ्यर्थियों ने रजिस्ट्रेशन कराया था। जिसमें पहले दिन 2 परियों में 7 लाख 50 हजार 443 अभ्यर्थियों ने परीक्षा दी। जबकि आज 2 परियों में 5 लाख से अधिक अभ्यर्थियों के शामिल होने की सम्भावना है। पहली पारी सुबह 10 से दोपहर 12 बजे तक, जबकि दूसरी पारी दोपहर 2:30 बजे से 4:30 बजे तक होगी। इसके लिए प्रदेशभर में 1140 परीक्षा केंद्र बनाए गए है। जिसमें जयपुर जिले में सबसे ज्यादा 456 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। जहां लगभग 2 लाख अभ्यर्थी परीक्षा देने पहुंचेंगे।

बिना मास्क एंट्री नहीं

परीक्षा केन्द्र पर अभ्यर्थियों को मास्क लगाकर आना अनिवार्य है। बिना मास्क के एग्जाम सेंटर पर प्रवेश नहीं दिया जाएगा। परीक्षा केन्द्र के एंट्रेंस गेट पर कोविड-19 के मद्देनजर सभी कैंडिडेट्स के लिए हैंड सैनिटाइजर, हैंड वॉश और थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था की गई है।
परीक्षा शुरू होने बाद एग्जाम सेंटर पर प्रवेश नहीं

अभ्यर्थी परीक्षा केन्द्र पर तय परीक्षा समय के 1:30 घण्टे पहले ही पहुंच जाएं। ताकि तलाशी के बाद आप समय पर एग्जाम रूम में तय सीट पर बैठ सकें। परीक्षा शुरू होने के तय समय के बाद किसी भी कैंडिडेट को एग्जाम सेंटर में प्रवेश नहीं दिया जाएगा।

इन चीजों पर पाबंदी

नीले बॉल पेन के अलावा दूसरे रंग का कोई पेन परीक्षा केंद्र पर लाना मना है। परीक्षा केन्द्र में घड़ी (WATCH) लाने की परमिशन नहीं होगी। मोबाइल फोन, ब्लूटूथ, इयरफोन, माइक्रोफोन, पेजर, पेनड्राइव, कैलकुलेटर, स्कैनर या कोई भी कम्युनिकेशन उपकरण अलाऊ नहीं है। किसी तरह का हथियार लेकर परीक्षा केन्द्र पर प्रवेश नहीं दिया जाएगा। पानी की बोतल, पर्स, बैग, ज्योमैट्री बॉक्स, पेंसिल बॉक्स, प्लास्टिक पाउच, तख्ती, पैड, गत्ता, रबर, लॉग टेबल, किताबें, नोटबुक, पर्चियां, व्हाइटनर, स्लाइड रुल पर परीक्षा केन्द्र में पाबंदी रहेगी।