मरूधर बुलेटिन न्यूज डेस्क। 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के दिन दिल्ली के लालकिले पर उपद्रवियों ने जो उपद्रव किया। उसने सारे देश को शर्मसार कर दिया। गणतंत्र दिवस के दिन हुए इस उपद्रव को लेकर दुनियाभर के देशों ने निंदा की है। २६ जनवरी को ट्रैक्टर परेड रैली के दौरान हुई हिंसा में सैकड़ों पुलिसकर्मी घायल हो गए। बहरहाल इसी बीच लालकिले पर हुए हिंसक प्रदर्शन में पंजाबी कलाकार दीप सिद्ध का नाम आ रहा है। इसी बीच हाल ही में दीप सिद्ध ने सोशल मीडिया के जरिए सफाई दी है।

hhh

साथ ही सोशल मीडिया पर जारी विडियो में पंजाबी अभिनेता दीप सिद्धू ने किसानों को खुली चेतावनी दी है। बार बार गद्दार कहे जाने से नाराज सिद्धू ने किसान नेताओं को चेतावनी दी कि अगर उन्होंने अंदर की बातें खोलनी शुरू कर दी तो इन नेताओं को भागने की राह नहीं मिलेगी। इस बात को डायलॉग न समझें। ये बात याद रखना। मेरे पास हर बात की दलील है। मानसिकता बदलो। साथ ही उन्होंने कहा कि मुझे इस मामलें में फंसाया जा रहा है। साथ ही पंजाबी अभिनेता दीप सिद्धू ने कहा कि सरकार वाले रूट पर काफी कम ट्रैक्टर थे, जबकि हर ओर से लोग लालकिले की ओर बढ़ रहे थे। जब लाल किले का गेट टूटा तब मैं वहां पहुंचा था और तब तक वहां पर हजारों की संख्या में लोग पहुंच गए थे। मुझे लोग खींच कर ऊपर ले गए, लाल किले के ऊपर झंडे लगाने वाली जगह खाली थी जहां हमने निशान साहिब औऱ किसान मोर्चा का झंडा लगाया।

ff 2

दिल्ली में हुई हिंसा के बाद से पुलिस-प्रशासन किसान आंदोलनकारियों पर काफी सख्ती कर रही है। एक ओर जहां मेरठ के बड़ौत में 40 दिन से चल रहे प्रदर्शन को पुलिस ने बीती रात खत्म कराया, वहीं यूपी गेट पर आंदोलन स्थल की बिजली काट दी गई। बहरहाल बता दें कि दो महीनों से चल रहे किसान आंदोलन को लेकर अब कुछ किसान संगठनों ने धरना समाप्त करने का ऐलान कर दिया है।