Marudhar Desk: हाथ के बदले हाथ, जान के बदले जान या फिर खून का बदला खून से… ये सब आपने फिल्मों में तो खूब देखा होगा लेकिन इस कहावत को असलियत में देखा गया है महाराष्ट्र में। जहां इंसानो ने नही बल्कि बेजुबानों ने खून का बदला खून से लिया है। जहां बंदरों ने अपने बच्चे की जान का बदला कुत्तों से कुछ ऐसे लिया कि अब तक 250 से ज्यादा कुत्तों को मार चुके है। दरअसल, ये अजीबोगरीब मामला सामने आया है महाराष्ट्र के बीड़ जिले के माजलगांव से। माजलगांव के लोगों का कहना है कि बंदरों के द्वारा कुत्तों से बदला लेने की यह घटना बीते पिछले एक महीने से चल रही है। ग्रामीणों का कहना है कि बंदरों ने कुत्तों से बदला लेने का सिलसिला तब शुरू किया जब कुछ कुत्तों ने एक बंदर के बच्चे को मार डाला। इससे बंदर खफा हो गए और उन्होंने कुत्तों को मारना शुरू कर दिया। बंदर कुत्ते को देखते हुए उसे खींचकर ले जाते हैं और मारने के बाद पेड़ या मकानों की छतों से फेंक देते हैं। हालत यह हो गई है कि गांव में शायद ही कोई कुत्ता बचा है। इस बारे में गांव के लोगों ने वन विभाग से संपर्क किया और उनसे हमलावर बंदरों को पकड़ने का अनुरोध किया। जिसके बाद कुत्तों से इस ‘रिवेंज किलिंग’ में शामिल दो बंदरों को वन विभाग ने कड़ी मशक्कत के बाद पकड़ लिया है। इस घटना के बाद सोशल मीडिया पर मीम्स की बाढ़ सी आ गई है। सभी बंदरों और कुत्तों में चल रही इस लड़ाई के खत्म होने की उम्मीद लगा रहे है। इन दिनों सोशल मीडिया पर एक और वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक बंदर का बच्चा कुत्ते के ऊपर खड़े होकर दुकान के बाहर टंगी खाने के सामान की थैली तोड़ रहा है। ये वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। जिसके बाद सभी सोशल मीडिया यूजर यही उम्मीद जता रहे है कि ये रिवेंज किलिंग का सिलसिला जल्द खत्म हो और इन बेजुबानों में फिर से यही प्यार देखने को मिले।