जयपुर के वैशाली नगर इलाके में 26 फीट लंबी सुरंग बनाकर डॉ. सुनीत सोनी के घर से 540 किलो चांदी की सिल्लियां चुराने वाला मास्टरमाइंड शेखर अग्रवाल और उसका भांजा जतिन जैन पुलिस की गिरफ्त में है। वे उत्तराखंड में उखी मठ में होम स्टे में रुपए देकर ठहरे हुए थे। वहां से नेपाल भागने की फिराक में थे। लेकिन वे ऐसा करते इससे पहले जयपुर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया पुलिस रिमांड पर लेकर आरोपियों से पूछताछ कर रही है।

प्रारंभिक जानकारी में सामने आया कि चांदी चोरी की वारदात का खुलासा होने के बाद शेखर अग्रवाल अपने भांजे जतिन को लेकर जयपुर से दिल्ली होकर हरिद्वार चला गया था। वहां करीब 8-9 मार्च महाशिवरात्रि तक फरारी काटी। जेब में खर्च के लिए ज्यादा रुपए नहीं थे। इसलिए हरिद्वार में दुकानों के बाहर और गंगा किनारे अलग अलग घाटों पर रात बिताई। वे करीब 10 से 12 दिनों तक हरिद्वार में रहे। फिर पुलिस की गिरफ्त में आने के डर से ऋषिकेश चले गए। वहां खानाबदोश बनकर टैंट में रुककर समय बीताया।