आसलपुर-काराेना बीमारी काे गांव में राेकने लिए ग्राम पंचायत आसलपुर की सरपंच सरला कुमावत ने एक पहल की। उन्हाेंने सरपंच कार्यकाल के अपने एक साल के वेतन से ग्रामीणाें के लिए मास्क,सेनेटाइजर, तापमापी मशीन आदि मंगवाए हैं। मास्क व सेनेटाइजर का गांव में वितरण किया जा रहा है। ग्रामीणाें काे काेराेना के प्रति ग्राम पंचायत की ओर से जागरूक किया गया।

IMG 20210506 WA0006

गांव में काेराेना संक्रमण के मामले सामने आने के बाद सरपंच ने यह कदम उठाया सरपंच सरला ने बताया कि गांव में कुछ दिन पहले संक्रमण के मामले सामने आने के बाद गांव के प्रत्येक घर में मास्क व सेनेटाइजर पहुंचाए जाएंगे। इसके बाद वेतन से मास्क,सेनेटाइजर व अन्य सामान मंगवाया गया। साथ ही गांव जोबनेर में कोरोना को अंकुश लगाने के लिए ग्राम पंचायत आसलपुर में पंचायत प्रशासन की ओर से कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे के चलते लोगों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने की कवायद को लेकर आयुर्वेदिक विभाग के सहयोग से काढ़ा पिलाया गया। इस मौके पर आयुर्वेदिक चिकित्सालय व ग्रामीणों के सहयोग से सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ख्याल रखते हुए बड़ी तादाद में आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों से बना काढ़ा पिलाया गया।

स्थानीय राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय की डॉ.मोनिका गोदारा ने कहा कि इस काढें को पीने से लोगों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ जाएगी और बीमारियां उन्हें नहीं घरेगी,उन्होंने कोरोना वायरस से बचाव के लिए भी लोगों को जागरूक किया। वही इस मौके पर सरपंच सरला कुमावत ने कहा कि इस समय लोगों को ज्यादा भीड़ भाड़ वाली जगह पर जाने से बचना चाहिए। इसके साथ ही सरपंच ने सरकारी गाइडलाइन की पालना करने के लिए लोगों से अपील की,उन्होंने कहा कि चेहरे पर मास्क लगाना बार-बार सैनेटाइजर से हाथ धोना और सोशल डिस्टेंसिंग रखने से ही कोरोना महामारी से बचा जा सकता है। 2 गज की दूरी मास्क है जरूरी। इस मौके पर उपसरपंच राजेंद्र सिंह राव,वार्ड पंच कमलेश कुमार गैदर,राजेन्द्र वर्मा,मोती लाल कुमावत,ममता मीणा,कान्ता कुमावत,दुर्गावती प्रजापति,गिरधारी, सुमेर सिंह,दिनेश, विनय,सुरेश,प्रीतम सिंह, जितेंद्र सिंह, सहित कई जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।

IMG 20210506 WA0004