तीन कृषि कानून को लेकर किसान आंदोलन कर रहे है वहीं दूसरी ओर नए कृषि कानून की जमीनी हकीकत सामने आने लगी। कल तक जिन किसानों को अनाज बेचने के लिए मशक्त करनी पड़ती थी। मशक्त के बावजूद वो कीमत नहीं मिल पाती जिसके वो हकदार होते थे । नए कृषि कानून से तस्वीर पूरी तरह से बदल गई है। आगे बढ़ने से पहले नए कृषि कानून से अन्नदाताओं की जिंदगी कैसे बदल रही है राजस्थान के किसानों की जुबानी सुनिए ये है जयपुर से करीब तीस किलोमीटर ढोढसर गांव जहां के किसान नए कृषि कानून से काफी खुश है। अनाज बेचने के लिए जो किसान कल तक दर-दर की ठोकरे खा रहे थे। आज उनकी जिंदगी पूरी तरह बदल गई है। 

नए कृषि कानून आने के बाद फसले न सिर्फ खेत से ही बिक रही है बल्कि किसानों को लागत से कही ज्यादा दाम मिल रहा है। फसलों को बाजार तक लाने-ले जाने से मुक्ति मिल गई है। क्षेत्र के व्यापारी किसानों तक पहुंच रहे है और वाजिब कीमत देकर अनाज ले जा रहे है