जयपुर|Mahima Jain:जिसका डर था वही हुआ जी हां कोरोना का नया वैरिएंट ओमिक्रॉन अब जानलेवा बन चूका है वही चिकित्सको और वैज्ञानिको का कहना है की अब लोगो को सतर्क रहना होगा अमेरिका में कोरोना वायरस के ओमिक्रॉन वैरिएंट से पहली मौत हुई है। US के टेक्सास से ओमिक्रॉन संक्रमित की मौत रिपोर्ट हुई है। स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि इस व्यक्ति ने वैक्सीन की एक भी डोज नहीं लगवाई थी। मृतक की उम्र 50-60 साल के बीच बताई जा रही है।अमेरिका में कोरोना के ओमिक्रॉन वैरिएंट से संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ रही है। सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के मुताबिक, बीते हफ्ते US में मिले कोरोना केस में 73.2% मामले ओमिक्रॉन के हैं। यहां के नॉर्थवेस्ट, दक्षिण और मिडवेस्ट के कुछ इलाकों में यह आंकड़ा 90% के ऊपर पहुंच गया है।

corona beer virus

वहीं, ह्वाइट हाउस ने बताया है कि फुली-वैक्सीनेटेड और बूस्टर डोज लगवा चुका स्टाफ मेंबर कोरोना पॉजिटिव मिला है। यह व्यक्ति तीन दिन पहले बाइडेन के आसपास करीब 30 मिनट तक रहा था। बाइडेन की रिपोर्ट अभी तक निगेटिव आई है।

पाबंदियां बढ़ाई गईं

ओमिक्रॉन के चलते US में कोरोना मरीजों की तादात बहुत तेजी से बढ़ी है। इसे देखते हुए अलग-अलग इलाकों में पाबंदियां बढ़ाई जा रही हैं। हालांकि, राष्ट्रपति जो बाइडेन फिलहाल लॉकडाउन लगाने की तैयारी में नहीं हैं। मालूम हो कि बाइडेन मंगलवार को कोविड-19 को लेकर देश को संबोधित करने वाले हैं।

ओमिक्रॉन

शुरुआती डेटा से पता चला है कि ओमिक्रॉन और ज्यादा संक्रामक हो सकता है। साथ ही इस पर मौजूदा वैक्सीन का असर भी कम होने की आशंका है। हालांकि, इस बात के भी संकेत मिले हैं कि डेल्टा की तुलना में ओमिक्रॉन कम घातक होगा। नवंबर में दक्षिण अफ्रीका में ओमिक्रॉन का पहला केस मिला था। अब तक यह दर्जनों देशों में पहुंच चुका है।

WHO बोला- शोक मनाने से अच्छा है कि जश्न न मनाएं

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के डायरेक्टर जनरल टेड्रोस अदनोम घेब्येयियस ने कोरोना को खत्म करने के लिए मौजूदा प्रयासों को दोगुना करने की अपील की है। उन्होंने क्रिसमस और नए साल के जश्न को कैंसल करने की सलाह दी। टेड्रोस ने कहा कि बाद में शोक मनाने से अच्छा होगा कि अभी जश्न न मनाया जाए।